UP: उत्तर प्रदेश (UP) राज्य महिला आयोग की सदस्य मीना कुमारी ने अलीगढ़ में लोक निर्माण अतिथि गृह में महिला उत्पीड़न संबंधी शिकायतों को सुनने के दौरान लड़कियों को लेकर मीडिया के समक्ष विवादित बयान दे डाला। लड़कियों के साथ हो रही घटनाओं का जिम्मेदार उन्होंने लगातार लड़कियों को मोबाइल पर बात करना और लड़कियों की मांओं व परिवार को ठहराया है।

अपने बयान में मीना कुमारी ने कहा की इस तरह के केस समाज में नहीं रुक रहे हैं। हम लोगों के साथ-साथ इसमें पैरवी समाज के लोगों को भी करनी पड़ेगी। अपनी बेटियों को भी देखना पड़ेगा। वह क्या कर रही, कहां जा रही है? स लड़के के साथ बैठ रही है? उनके मोबाइल को भी देखना होगा।

यह मैं सभी को बोलती हूं। मोबाइल से घंटों लड़कियां बातें करती रहती है। यहां तक मैटर पहुंच जाता है। की जिससे लड़कियां बात कर रही है। उसके साथ भाग जाती है। एक वाकया अभी मेरे पास आया है। जिसमें एक वाल्मीकि की लड़की व जाटव का लड़का है। बालमपुर मेरा ससुराल है। वहां से लोग कल मेरे पास आए . और बताया की शादी करके लड़की-लड़के ने फोटो सोशल मीडिया पर डाल दी है।

गांव के लोग अब कर रहे हैं। और यह कह रहे है की उन्हें हम घर में घुसने नहीं देंगे। मेरी अपील है अपनी बेटियों को घर वाले मोबाइल ना दें। यदि दे रहे है तो पूरी निगाह उस पर रखें। उन मांओं को सबसे पहले कहती हु। अपनी बेटियों का वह ध्यान रखें। मां की लापरवाही की वजह से यह सब होता है।

यह भी पढ़ें- सुशांत पर बनने वाली फिल्म अब होगी रिलीज़, दिल्ली हाई कोर्ट ने याचिका की खारिज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *