Global Statistics

All countries
261,740,072
Confirmed
Updated on November 29, 2021 6:11 AM
All countries
234,604,141
Recovered
Updated on November 29, 2021 6:11 AM
All countries
5,216,864
Deaths
Updated on November 29, 2021 6:11 AM

Global Statistics

All countries
261,740,072
Confirmed
Updated on November 29, 2021 6:11 AM
All countries
234,604,141
Recovered
Updated on November 29, 2021 6:11 AM
All countries
5,216,864
Deaths
Updated on November 29, 2021 6:11 AM

आज का हेल्थ टिप्स: बढ़ रहा है प्रोस्टेट कैंसर का खतरा, इन बातों का ध्यान रख कर रह सकते हैं सुरक्षित

आज का हेल्थ टिप्स: कैंसर दुनिया भर में सबसे तेजी से बढ़ते खतरों में से एक है। पिछले दशक में, भारत में कैंसर रोगियों की संख्या में उल्लेखनीय वृद्धि हुई है। हालांकि कैंसर कई प्रकार का हो सकता है। लेकिन प्रोस्टेट कैंसर दुनिया भर में पुरुषों को प्रभावित करने वाला चौथा सबसे आम प्रकार का कैंसर है। यह समस्या प्रोस्टेट ग्रंथि में कैंसर कोशिकाओं के बढ़ने के कारण होती है। जिसमें रोगियों को पेशाब करने में कठिनाई, स्खलन, बार-बार पेशाब आना और पेशाब में खून आने जैसी समस्या हो सकती है। 65 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को अधिक जोखिम होता है।

अध्ययनों से पता चलता है कि उम्र के साथ खराब आहार और दैनिक जीवन शैली की आदतें कैंसर कोशिकाओं के विकास में भूमिका निभा सकती हैं। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक अगर जीवनशैली और खान-पान में बदलाव किया जाए तो यह इस तरह के कैंसर को बढ़ने से रोकने में मदद कर सकता है। आइए ऐसे ही उपायों के बारे में जानते हैं।

लो फैट डाइट लें

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार कम वसा वाले आहार का सेवन करने से न केवल हृदय रोग बल्कि प्रोस्टेट कैंसर के खतरे को भी कम किया जा सकता है। तली हुई चीजों की मात्रा को कम करने के साथ-साथ अपने आहार में उच्च मात्रा में गुड फैट जैसे नट्स, घी, मछली को शामिल करके स्वास्थ्य को बढ़ावा दिया जा सकता है। अध्ययनों से पता चलता है कि उच्च वसा वाले खाद्य पदार्थों के सेवन से प्रोस्टेट कैंसर का खतरा बढ़ सकता है।

अधिक फल और सब्जियां खाएं

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार खाने की थाली में रंग-बिरंगी सब्जियां और तरह-तरह के फलों को शामिल करना फायदेमंद माना जाता है। विभिन्न प्रकार की सब्जियां पोषक तत्वों का भंडार हैं। इसमें मौजूद विटामिन और खनिज प्रोस्टेट कैंसर के खतरे को कम करने में मदद कर सकते हैं। सोयाबीन और ग्रीन-टी को अपनी डाइट में शामिल करके भी लाभ प्राप्त किया जा सकता है।

वजन कम रखना बहुत जरूरी

अध्ययनों से पता चलता है कि अधिक वजन या मोटापे से प्रोस्टेट कैंसर और अन्य पुरानी बीमारियों का खतरा बढ़ सकता है। 30 या इससे अधिक बीएमआई (बॉडी मास इंडेक्स) वाले पुरुषों में प्रोस्टेट कैंसर का खतरा अधिक होता है। यदि आप भी अधिक वजन वाले हैं तो स्वस्थ आहार का पालन करने का प्रयास करें और नियमित रूप से व्यायाम करें।

शराब और धूम्रपान से रखें दूरी

धूम्रपान और शराब का सेवन भी स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है। इन आदतों से तमाम तरह की गंभीर बीमारियों का खतरा बढ़ सकता है। जो लोग अधिक मात्रा में शराब पीते हैं। उनमें प्रोस्टेट कैंसर का खतरा अधिक होता है। जबकि जो लोग अधिक धूम्रपान करते हैं उनमें कैंसर कोशिकाओं के विकसित होने का खतरा अधिक होता है।

यह भी पढ़ें – आज का हेल्थ टिप्स: न करें गंभीर डेंगू के इन 4 लक्षणों को नजरअंदाज, ये है बचाव के उपाय

यह भी पढ़ें – आज का हेल्थ टिप्स: रोजाना सोने से पहले पिएं एक गिलास गर्म नींबू पानी, मिलेंगे ये कमाल के फायदे

अस्वीकरण: भाग्यमत के स्वास्थ्य और फिटनेस श्रेणी में प्रकाशित सभी लेख डॉक्टरों, विशेषज्ञों और शैक्षणिक संस्थानों आधार पर तैयार किए गए हैं। लेख में उल्लिखित तथ्यों और सूचनाओं को भाग्यमत के पेशेवर पत्रकारों द्वारा सत्यापित किया गया है। इस लेख को तैयार करते समय सभी निर्देशों का पालन किया गया है। पाठक की जानकारी और जागरूकता बढ़ाने के लिए संबंधित लेख तैयार किया गया है। भाग्यमत लेख में दी गई जानकारी और जानकारी के लिए दावा या जिम्मेदारी नहीं लेता है। उपरोक्त लेख में वर्णित संबंधित बीमारी के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए अपने चिकित्सक (डॉक्टर) से परामर्श जरूर करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

RECENT UPDATED