Global Statistics

All countries
648,755,570
Confirmed
Updated on December 2, 2022 7:05 pm
All countries
624,838,872
Recovered
Updated on December 2, 2022 7:05 pm
All countries
6,643,011
Deaths
Updated on December 2, 2022 7:05 pm

Global Statistics

All countries
648,755,570
Confirmed
Updated on December 2, 2022 7:05 pm
All countries
624,838,872
Recovered
Updated on December 2, 2022 7:05 pm
All countries
6,643,011
Deaths
Updated on December 2, 2022 7:05 pm

Warning: Trying to access array offset on value of type bool in /homepages/40/d912903600/htdocs/clickandbuilds/Bhagymat/wp-content/plugins/td-cloud-library/state/single/tdb_state_single.php on line 275

Warning: Trying to access array offset on value of type bool in /homepages/40/d912903600/htdocs/clickandbuilds/Bhagymat/wp-content/plugins/td-cloud-library/state/single/tdb_state_single.php on line 275

Warning: Trying to access array offset on value of type bool in /homepages/40/d912903600/htdocs/clickandbuilds/Bhagymat/wp-content/plugins/td-cloud-library/state/single/tdb_state_single.php on line 275

Warning: Trying to access array offset on value of type bool in /homepages/40/d912903600/htdocs/clickandbuilds/Bhagymat/wp-content/plugins/td-cloud-library/state/single/tdb_state_single.php on line 275

चक्रवात तौकते के कारण नौका पी-305 डूबने से 22 शव बरामद, 65 लापता व 185 लोगों को बचाया गया

- Advertisement -

अरब सागर में नौका पी-305 डूबने के दो दिन बाद 22 शव बरामद किए गए हैं। और 185 लोगों को बचाया गया है।मुंबई से 35 समुद्री मील की दूरी पर नौका पी-305 डूबने के दो दिन बाद 22 शव बरामद किए गए हैं और उन्हें मुंबई गोदी में लाया गया है। 185 लोगों को रेस्क्यू भी किया गया है।

पश्चिमी नौसेना कमान के कमांडर ऑपरेशन एमके झा ने मौतों की संख्या की पुष्टि की और कहा कि पहचान की जा रही है। हालांकि, यह कैसे कहा गया कि अभी यह पता नहीं चल पाया है कि पी-305 से सभी लोगों के हताहत होने की सूचना मिली थी या नहीं।

सूत्रों ने बुधवार को बताया कि आवास नौका पी-305 पर सवार कुल 65 कर्मी अब भी लापता हैं।

नौसेना ने कहा कि खराब मौसम से जूझ रहे उसके कर्मियों ने अब तक 273 लोगों में से 186 को बचाया है, जो पी305 जहाज पर सवार थे और दो टगबोट वरप्रदा से भी।

एक अधिकारी ने कहा, “खोज और बचाव अभियान अभी भी जारी है और हमने उन्हें तट पर लाने की उम्मीद नहीं खोई है।” हालांकि, जैसे-जैसे घंटे बीतते जा रहे हैं, जीवित बचे लोगों के मिलने की संभावना क्षीण होती जा रही है।

नौसेना के एक प्रवक्ता (Navy spokesman) ने कहा कि दो अन्य नौकाओं और एक तेल रिग पर सवार सभी कर्मी गुजरात तट पर “बेहद भयंकर चक्रवाती तूफान” के आने से कुछ घंटे पहले तक सुरक्षित हैं।

उन्होंने कहा कि 22 शव, जिन्हें प्रवक्ता ने ब्रेव नेचर विक्टिम्स (बीएनवी) कहा, को 125 बार्ज पी305 बचे लोगों के साथ मुंबई लाया गया।

नौसेना का युद्धपोत आईएनएस कोच्चि बुधवार को पी305 से शवों और 186 में से 125 लोगों को बचाकर मुंबई पहुंचा।

नौसेना के एक प्रवक्ता ने कहा, “बुधवार सुबह तक, नौका पी305 के 186 कर्मियों को बचा लिया गया है। आईएनएस तेग, आईएनएस बेतवा, आईएनएस ब्यास, पी8आई विमान और सीकिंग हेलीकॉप्टर खोज और बचाव अभियान जारी रखे हुए हैं।”

जीएएल कंस्ट्रक्टर बजरा पर सवार सभी 137 कर्मियों को मंगलवार को नौसेना और तटरक्षक बल ने बचा लिया। अधिकारी ने बताया कि नौका एसएस-3 पर सवार 196 कर्मी और तेल रिग सागर भूषण (oil rig Sagar Bhushan) पर सवार 101 कर्मी सुरक्षित हैं।

ओएनजीसी और एससीआई द्वारा किराए पर लिए गए अपतटीय जहाजों को सुरक्षा के लिए ले जाया जाता है। आईएनएस तलवार भी सारिणी में सहायता के लिए क्षेत्र में है
ऑप्स, उन्होंने जोड़ा।

अधिकारी ने बताया कि ओएनजीसी के अपतटीय अभियानों में काम कर रहे आवास बजरा पी305 सोमवार शाम को डूब गया। इसमें सवार 273 कर्मियों में से 184 को अब तक बचा लिया गया है।

707 कर्मियों के साथ तीन बार्ज और एक तेल रिग सोमवार को खराब हो गया। अधिकारी ने कहा कि इनमें 273 व्यक्तियों के साथ बजरा पी305, 137 कर्मियों के साथ कार्गो बार्ज जीएएल कंस्ट्रक्टर, बोर्ड पर 196 कर्मियों के साथ आवास बार्ज एसएस-3 और 101 कर्मियों के साथ सागर भूषण तेल रिग शामिल हैं।

नौसेना स्टाफ के उप प्रमुख वाइस एडमिरल मुरलीधर सदाशिव पवार ने कहा कि मौजूदा एसएआर पिछले चार दशकों में सबसे चुनौतीपूर्ण खोज और बचाव कार्यों में से एक है।

273 कर्मियों के साथ बॉम्बे हाई एरिया (Bombay High Area) में हीरा तेल क्षेत्रों से दूर ‘पी 305’ बजरा के लिए सहायता के लिए अनुरोध प्राप्त होने के बाद सोमवार को नौसेना के जहाजों को तैनात किया गया था।

तेल क्षेत्र (oil fields) मुंबई से लगभग 70 किमी दक्षिण पश्चिम में हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Shattila Ekadashi Kab Hai 2023: षटतिला एकादशी कब है? जानिए तिथि, शुभ मुहूर्त और महत्व

Shattila Ekadashi Kab Hai 2023: माघ मास के कृष्ण पक्ष की एकादशी को षटतिला एकादशी के नाम से जाना जाता है। इस दिन भगवान...

Magh Month 2023: माघ मास में स्नान के क्या हैं नियम? जानिए क्या करें और क्या न करें?

Magh Month 2023: माघ मास की शुरुआत हो चुकी है। माघ का महीना हिंदू धर्म में बहुत ही पवित्र माना जाता है। धार्मिक मान्यता...

Love Rashifal 9 January 2023: आपके प्यार और दांपत्य जीवन के लिए कैसा रहेगा आज का दिन

आज का लव राशिफल 9 जनवरी 2023 (Aaj Ka Love Rashifal 9 January 2023): मेष, वृषभ, मिथुन, कर्क, सिंह, कन्या, तुला, वृश्चिक, धनु, मकर,...

Lohri 2023 Date: 13 या 14 जनवरी, इस साल कब है लोहड़ी? जानिए सटीक तारीख और इससे जुड़ी खास बातें

Lohri Kab Hai 2023: मकर संक्रांति की तरह लोहड़ी भी उत्तर भारत का एक प्रमुख त्योहार है। यह विशेष रूप से पंजाब और हरियाणा...

Related Articles

Shattila Ekadashi Kab Hai 2023: षटतिला एकादशी कब है? जानिए तिथि, शुभ मुहूर्त और महत्व

Shattila Ekadashi Kab Hai 2023: माघ मास के कृष्ण पक्ष की एकादशी को षटतिला एकादशी के नाम से जाना जाता है। इस दिन भगवान...

Magh Month 2023: माघ मास में स्नान के क्या हैं नियम? जानिए क्या करें और क्या न करें?

Magh Month 2023: माघ मास की शुरुआत हो चुकी है। माघ का महीना हिंदू धर्म में बहुत ही पवित्र माना जाता है। धार्मिक मान्यता...

Love Rashifal 9 January 2023: आपके प्यार और दांपत्य जीवन के लिए कैसा रहेगा आज का दिन

आज का लव राशिफल 9 जनवरी 2023 (Aaj Ka Love Rashifal 9 January 2023): मेष, वृषभ, मिथुन, कर्क, सिंह, कन्या, तुला, वृश्चिक, धनु, मकर,...

Lohri 2023 Date: 13 या 14 जनवरी, इस साल कब है लोहड़ी? जानिए सटीक तारीख और इससे जुड़ी खास बातें

Lohri Kab Hai 2023: मकर संक्रांति की तरह लोहड़ी भी उत्तर भारत का एक प्रमुख त्योहार है। यह विशेष रूप से पंजाब और हरियाणा...

Love Rashifal 7 January 2023: आपके प्यार और दांपत्य जीवन के लिए कैसा रहेगा आज का दिन

आज का लव राशिफल 7 जनवरी 2023 (Aaj Ka Love Rashifal 7 January 2023): मेष, वृषभ, मिथुन, कर्क, सिंह, कन्या, तुला, वृश्चिक, धनु, मकर,...