Global Statistics

All countries
229,697,726
Confirmed
Updated on September 21, 2021 04:29
All countries
204,651,138
Recovered
Updated on September 21, 2021 04:29
All countries
4,711,126
Deaths
Updated on September 21, 2021 04:29

Global Statistics

All countries
229,697,726
Confirmed
Updated on September 21, 2021 04:29
All countries
204,651,138
Recovered
Updated on September 21, 2021 04:29
All countries
4,711,126
Deaths
Updated on September 21, 2021 04:29

अजब-गजब: पृथ्वी पर फिर से दिखाई देंगे विशालकाय मैमथ, इस तरह वैज्ञानिक करने जा रहे हैं उनका पुनर्जन्म

Amazing Facts In Hindi: वैज्ञानिक नए-नए शोध करने में लगे हैं। वह हमेशा पूरी तरह से अलग शोध करते है। वैज्ञानिक उन चीजों पर शोध करते हैं जिनके बारे में किसी ने कभी नहीं सोचा होगा। अब वैज्ञानिक एक बार फिर ऐसा ही शोध कर रहे हैं। अब वह मैमथ प्रजाति को वापस धरती पर लाने की कोशिश कर रहा है। मैमथ 80 लाख साल पहले ही धरती से गायब हो चुके हैं।

दोबारा देखने को मिलेंगे विशालकाय मैमथ

इस शोध के बारे में एक रिपोर्ट में बताया गया है। फंडिंग और विज्ञान की मदद से मैमथ प्रजाति को वापस धरती पर लाने का प्रयास किया जा रहा है। वैज्ञानिक लाखों साल पहले गायब हुए इस जानवर को छह साल के भीतर धरती पर लाना चाहते हैं। दुनिया के सबसे अमीर निवेशक बेन लैम और बिजनेस पार्टनर जॉर्ज चर्च इस प्रोजेक्ट के लिए 11 मिलियन पाउंड का फंड देंगे। लैम एंड चर्च की फर्म कोलोसल जीन एडिटिंग सॉफ्टवेयर में माहिर है।

दोबारा देखने को मिलेंगे विशालकाय मैमथ

वैज्ञानिकों को उम्मीद है कि वे लाखों साल पुरानी कब्रों से मैमथ को वापस ला सकते हैं। सोमवार को इस प्रोजेक्ट की घोषणा की गई। मैमथ के डीएनए से लैब में भ्रूण की मदद से हाथी-मैमथ हाइब्रिड बनाया जाएगा। इस भ्रूण को सरोगेट या कृत्रिम गर्भ की मदद से विकसित किया जा सकता है। जॉर्ज चर्च ने समझाया है कि मेरा उद्देश्य आर्कटिक में जीवित रहने में सक्षम मैमथ बनाना है। इस शोध का परिणाम 6 साल में आएगा।

दोबारा देखने को मिलेंगे विशालकाय मैमथ

इस परियोजना को वित्त पोषित करने वाले बेन ने बताया कि वह चाहता है कि दुनिया से गायब हो चुके विशाल को फिर से जीवित किया जाए। आर्कटिक की बर्फ में मैमथ -40 डिग्री सेल्सियस के तापमान में भी जीवित रह सकेंगे। यह वो सभी काम करेगा जो हजारों साल पहले मैमथ किया करते थे। इन जानवरों को एशियाई हाथी से पाला जाएगा ताकि यह बर्फ और गर्म दोनों जगहों पर रह सके।

मैमथ उस समय के हाथियों से काफी बड़े थे। यह लगभग पांच मीटर ऊंचा और छह से आठ टन वजन का हुआ करता था। शरीर पर लंबे ऊनी बाल। वे लाखों साल पहले तक रूस के साइबेरिया में घूमते थे।

यह भी पढ़ें –   अजब-गजब: कछुए इतने लंबे समय तक क्यों रहते हैं? जिन्दा, जानिए वजह

यह भी पढ़ें –  अजब-गजब: क्या आत्माएं वास्तव में मौजूद हैं? जानिए 21 ग्राम थ्योरी इस विषय पर क्या कहती है

(Interesting, Interesting Facts, Interesting Facts In Hindi, Rochak Tathya, Rochak Tathya In Hindi, Amazing, Amazing Facts In Hindi, Amazing Facts)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

RECENT UPDATED

%d bloggers like this: