Global Statistics

All countries
240,188,856
Confirmed
Updated on October 14, 2021 23:59
All countries
215,765,598
Recovered
Updated on October 14, 2021 23:59
All countries
4,893,161
Deaths
Updated on October 14, 2021 23:59

Global Statistics

All countries
240,188,856
Confirmed
Updated on October 14, 2021 23:59
All countries
215,765,598
Recovered
Updated on October 14, 2021 23:59
All countries
4,893,161
Deaths
Updated on October 14, 2021 23:59

जैतून के तेल के फायदे: सेहत के लिए बहुत लाभदायक है जैतून का तेल

जैतून के तेल के फायदे: पिछले कुछ वर्षों में जैतून के तेल का उपयोग विभिन्न प्रकार के स्वास्थ्य लाभों के लिए देश भर में किया जाता रहा है। जैतून का तेल विभिन्न प्रकार के एंटीऑक्सिडेंट और पोषक तत्वों से भरपूर होता है। जो स्वास्थ्य के लिए विशेष लाभ प्रदान कर सकता हैं। जैतून के तेल में मोनोअनसैचुरेटेड फैटी एसिड (एमयूएफए) पाया जाता है। जो इसे विशेष रूप से फायदेमंद बनाता है। जैतून का उपयोग खाना पकाने के अलावा सौंदर्य प्रसाधन, दवा, साबुन बनाने आदि में भी किया जाता रहा है।

कई अध्ययनों में जैतून के तेल के स्वास्थ्य लाभों का उल्लेख किया गया है। जैतून एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर होने के लिए जाने जाते हैं। जो शरीर को मुक्त कणों से बचाते हुए सेलुलर क्षति से बचाते हैं। ये फ्री रेडिकल्स मेटाबॉलिज्म और अन्य शारीरिक प्रक्रियाओं के दौरान बनते हैं। जिससे कैंसर जैसी गंभीर बीमारियां भी हो सकती हैं। एंटीऑक्सीडेंट इन फ्री रेडिकल्स को बेअसर करने में मददगार होते हैं। आइए जानते हैं जैतून के तेल के अन्य स्वास्थ्य लाभों के बारे में।

जैतून के तेल के फायदे / Benefits of olive oil

दिल की बीमारियों में बहुत फायदेमंद होता है जैतून का तेल

कई अध्ययनों से पता चलता है कि जो लोग जैतून के तेल का सेवन करते हैं। उन्हें खाने में अन्य तेलों की तुलना में हृदय रोगों का खतरा कम होता है। साल 2018 में किए गए एक अध्ययन में वैज्ञानिकों ने बताया कि जो लोग जैतून के तेल या नट्स जैसे आहार का सेवन करते हैं। उनमें अन्य लोगों की तुलना में हृदय रोगों का खतरा कम होता है। हृदय संबंधी जोखिमों को कम करने के लिए साल 2018 में ही अध्ययन की समीक्षा के आधार पर खाद्य एवं औषधि प्रशासन (एफडीए) और यूरोपीय खाद्य सुरक्षा प्राधिकरण के वैज्ञानिक, प्रतिदिन लगभग 20 ग्राम या दो बड़े चम्मच की मात्रा में वर्जिन जैतून के तेल के सेवन करने की एडवाइस देते हैं।

मेटाबोलिक सिंड्रोम में फायदेमंद

मेटाबोलिक सिंड्रोम एक ऐसी स्थिति है जिसमें कई जोखिम कारक होते हैं जो मोटापे, उच्च रक्तचाप और उच्च रक्त शर्करा से संबंधित समस्याओं के जोखिम को बढ़ाते हैं। 2019 के मेटा-विश्लेषण के आधार पर वैज्ञानिकों ने निष्कर्ष निकाला कि जैतून का तेल सूजन, रक्त शर्करा, ट्राइग्लिसराइड्स (रक्त में वसा) और खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करने में सहायक हो सकता है। इसके साथ ही यह शरीर में अच्छे कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ाने में भी मददगार होता है।

चिंता और अवसाद की समस्या होती है कम

2013 के एक अध्ययन में, वैज्ञानिकों ने पाया कि जैतून के तेल में पाए जाने वाले यौगिक तंत्रिका तंत्र की रक्षा करने में सहायक होते हैं। इससे अवसाद और चिंता जैसी समस्याओं के जोखिम को कम किया जा सकता है। वैज्ञानिकों ने एक अन्य अध्ययन में पाया कि ट्रांस फैट का सेवन करने वाले लोगों की तुलना में जैतून के तेल जैसे अनसेचुरेटेड फैट का सेवन करने वालों में अवसाद होने की आशंका कम होती है।

कैंसर जैसी समस्या में मददगार

कुछ अध्ययनों से पता चलता है कि जैतून के तेल में मौजूद यौगिक स्तन कैंसर के खतरे को कम करने में मदद कर सकते हैं। साल 2019 में प्रकाशित शोध के अनुसार जैतून के तेल में ऐसे पदार्थ होते हैं। जो कोलोरेक्टल कैंसर को रोकने में मददगार हो सकते हैं। लैब परीक्षणों में इस बात के प्रमाण मिले हैं कि जैतून के तेल में मौजूद एंटीऑक्सिडेंट (antioxidants) शरीर को सूजन, ऑक्सीडेटिव (oxidative) तनाव और एपिजेनेटिक (epigenetic) परिवर्तनों से बचाने में मदद कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें – मशरूम के फायदे : मशरूम का सेवन स्वास्थ्य के लिए है ‘रामबाण, मिलते हैं ये 5 जबरदस्त फायदे

यह भी पढ़ें – बदलते मौसम में रहें सावधान: अटैक कर सकता है मलेरिया, इन घरेलू नुस्खों से करें खुद को सुरक्षित

BHAGYMT ON OTHER PLATFORM

Join Our Telegram Channel – https://t.me/bhagymat

Follow On Koo – https://www.kooapp.com/profile/bhagymat

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

RECENT UPDATED