Warning: Trying to access array offset on value of type bool in /homepages/40/d912903600/htdocs/clickandbuilds/Bhagymat/wp-content/plugins/td-cloud-library/state/single/tdb_state_single.php on line 277

Warning: Trying to access array offset on value of type bool in /homepages/40/d912903600/htdocs/clickandbuilds/Bhagymat/wp-content/plugins/td-cloud-library/state/single/tdb_state_single.php on line 277

Warning: Trying to access array offset on value of type bool in /homepages/40/d912903600/htdocs/clickandbuilds/Bhagymat/wp-content/plugins/td-cloud-library/state/single/tdb_state_single.php on line 277

Warning: Trying to access array offset on value of type bool in /homepages/40/d912903600/htdocs/clickandbuilds/Bhagymat/wp-content/plugins/td-cloud-library/state/single/tdb_state_single.php on line 277

बिहार: 12 जिलों में रेड अलर्ट, गंगा, गंडक सहित कई नदियां खतरे के निशान से ऊपर

- Advertisement -

Bihar: मानसून की पहली बारिश ने बिहार (Bihar) में बाढ़ की चिंता बढ़ा दी है। 3 तीन दिनों से लगातार हो रही बारिश से जल भराव की समस्या जगह-जगह उत्पन्न हो गई है। वहीं खतरे के निशान से ऊपर गांगा, गंडक, बूढ़ी गंडक समेत कई नदियां बहने लगी हैं। पहली बार जून में गंडक नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है।

चार लाख क्यूसेक से अधिक पानी मानसून की शुरुआत में ही हो गया। बिहार (Bihar) में बाढ़ के हालात नेपाल में लगातार हो रही बारिश के चलते बन गए हैं। वहीं राजधानी पटना समेत 12 जिलों में बारिश के लिए मौसम विभाग ने रेड अलर्ट जारी किया है। एनडीआरएफ टीम की गोपालगंज, मुजफ्फरपुर, सुपौल, पटना, बेतिया, मोतिहारी, ररिया, किशनगंज, और दरभंगा जिले में तैनाती कर दी गई है।

तीन लोगों की मुजफ्फरपुर में नदी में गिरने से मौत

गुरुवार को बिहार के मुजफ्फरपुर जिले में एक दर्दनाक हादसा हो गया बाया नदी में एक तेज रफ्तार कार के गिरने से 3 लोगों की मौत हो गई। और 3 लोग पानी में डूब गए। हालांकि डूब रहे तीन लोगों को स्थानीय लोगों की मदद से सुरक्षित बचा लिया गया।

शुक्रवार तक बारिश की चेतावनी

गंगा का जलस्तर पटना में भी लगातार बढ़ रहा है। पटना जिले में एनडीआरएफ की एक टीम तैनात की गई है। बारिश को लेकर दूसरी तरफ मौसम विभाग ने गोपालगंज, सीवान, पटना, गया, नालंदा सहित 12 जिलों में रेड अलर्ट जारी किया है। इस दौरान 40 एमएम तक वर्षा होने व तेज हवा, बिजली गिरने का अनुमान जताया है।

अरवल, जहानाबाद, औरंगाबाद विभाग ने 13 जिलों में ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। 18 जून तक विभाग ने बारिश को लेकर चेतावनी जारी की है।

पहली बार गंडक में जून में इतना पानी

पश्चिम चंपारण के त्रिवेणी में और गोपालगंज के डुमरियाघाट में 16 जून को गंडक नदी खतरे के निशान से ऊपर थी। वही बूढ़ी गंडक चनपटिया में खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। पुनपुन, खिरोई, घाघरा गंगा, बागमती, व कोसी के जलस्तर में भारी बढ़ोतरी दर्ज की गई है। 4.12 लाख क्यूसेक गंडक का जलस्राव पहुंच गया। जल संसाधन विभाग ने बताया कि मानसून की शुरुआत में गंडक में इतना पानी कभी नहीं रहा।

यह भी पढ़ें- किसान आंदोलन: पहले ग्रामीण को शराब पिलाई, फिर जिन्दा जला दिया, दे दिया शहीद का नाम

यह भी पढ़ें- क्या है एंटीलिया मामला, शिवसेना नेता व पूर्व एनकाउंटर स्पेशलिस्ट प्रदीप शर्मा को NIA ने किया गिरफ्तार

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Latest Update

Latest Update