Global Statistics

All countries
199,098,370
Confirmed
Updated on 02/08/2021 4:37 PM
All countries
177,982,097
Recovered
Updated on 02/08/2021 4:37 PM
All countries
4,242,952
Deaths
Updated on 02/08/2021 4:37 PM

Global Statistics

All countries
199,098,370
Confirmed
Updated on 02/08/2021 4:37 PM
All countries
177,982,097
Recovered
Updated on 02/08/2021 4:37 PM
All countries
4,242,952
Deaths
Updated on 02/08/2021 4:37 PM

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी को थप्पड़ मारने वाले भाजपा नेता की मौत

राजनीतिक हिंसा का एक और मामला पश्चिम बंगाल में सामने आया है। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी को 2015 में एक कार्यक्रम के दौरान थप्पड़ जड़ने वाले BJP नेता की मौत हो गई। गुरुवार को जपा नेता देबाशीष आचार्य की रहस्यमय ढंग से मौत हुई है। रिवारवालों ने हत्या का आरोप लगाया है। बताया जा रहा है कि BJP नेता को कुछ अज्ञात लोगों ने अस्पताल पहुंचाया। और कुछ देर बाद मृत घोषित कर दिया गया।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार  मिदनापुर के तमलुक जिला अस्पताल में गंभीर रूप से घायल BJP नेता देवाशीष आचार्य को भर्ती कराया गया। अस्पताल प्रबंधन के मुताबिक कुछ अज्ञात लोगों ने गुरुवार की सुबह घायल शख्स को अस्पताल में भर्ती कराया। डॉक्टरों ने थोड़ी देर बाद घायल व्यक्ति के बारे में लोगों से पूछताछ करने के लिए बुलाया तो उन्हें पता चला कि भाजपा नेता को भर्ती कराने वाले सभी लोग वहा से फरार हो गए।

इसकी जानकारी मृतक के परिजनों को अस्पताल प्रबंधन ने दी। जब अस्पताल में परिवार वाले पहुंचे तो दावा किया कि देवाशीष की हत्या की गई है।

पुलिस मामले की जांच में जुटी

भाजपा नेताओं ने  देवाशीष आचार्य की मौत पर सवाल उठाए हैं। नेताओं ने कहा कि BJP नेताओं को टीएमएसी कार्यकर्ता लगातार निशाना बना रहे हैं। पर इस पर मुख्यमंत्री ध्यान नहीं दे रही हैं। अपनी प्रारंभिक जांच में पुलिस ने पाया कि 16 जून की शाम देवाशीष आचार्य अपने दो दोस्तों के साथ बाहर गए थे। पर वहां से उसके बाद  अचानक गायब हो गए। फिलहाल अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। मामले की जांच शुरू कर दी गयी।

अभिषेक बनर्जी को 2015 में जड़ा था थप्पड़

गौरतलब है कि 2015 में एक राजनीतिक कार्यक्रम में ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी को भरी जनसभा में देबाशीष आचार्य ने थप्पड़ मारा था। हालांकि टीएमसी समर्थकों ने इसके बाद उनकी खूब पिटाई की थी। उन्हें पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। उन्हें अभिषेक बनर्जी के दखल पर रिहा कर दिया गया था।

यह भी पढ़ें- दाढ़ी काटने का मामला: मुख्य आरोपी को मिली जमानत, सामने आया पुलिस का कारनामा

यह भी पढ़ें- दुखद: महान धावक मिल्खा सिंह अब नहीं रहे, पीजीआई चंडीगढ़ में ली अंतिम सांस

Leave a Reply

ताजा खबर

Related Articles

%d bloggers like this: