Hanuman Jayanti Upay: हनुमान जयंती के दिन करें ये काम, होगा धन लाभ

Hanuman Jayanti Ke Upay: शक्ति, बुद्धि और वीरता के प्रतीक महाबली हनुमान का अवतार शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा यानी रामनवमी के ठीक छह दिन बाद हुआ। इस साल हनुमान जी की जयंती 16 अप्रैल को मनाई जाएगी। भगवान श्री हनुमान की पूजा करने से व्यक्ति के जीवन से संकट दूर हो जाते हैं। संकट मोचन हनुमान न केवल नकारात्मक ऊर्जाओं और बुरी ताकतों से बचाते है बल्कि जीवन में धन, भौतिक सुख और ऊंचाइयों को भी प्रदान करते है। पवन पुत्र हनुमान के बताए मार्ग पर चलने वालों को कोई कष्ट नहीं होता। हनुमान जी पृथ्वी के जाग्रत देवता हैं। ऐसा माना जाता है कि वे आज भी पृथ्वी पर जीवित रूप में मौजूद हैं। वह अपने भक्तों को सभी सुख प्रदान करने में सक्षम हैं। इसलिए इस हनुमान जयंती पर उनकी कृपा पाने के लिए कुछ उपाय करें। आइए जानते हैं उन उपायों के बारे में…

Hanuman Jayanti Ke Upay – 

बेसन के लड्डू का भोग

हनुमान जयंती के दिन विधि-विधान पूजा करें और बेसन के लड्डू का भोग जरूर लगाएं। कहते हैं बेसन के लड्डू हनुमान जी को बहुत प्रिय होते हैं। ऐसे में हनुमान जी अपना मनपसंद भोग पाकर जीवन के सारे सुख दे देते हैं।

सिंदूर का चोला

धन संबंधी समस्याओं को दूर करने के लिए हनुमान जयंती के दिन बजरंगबली को सिंदूर का चोला चढ़ाएं। उन्हें चमेली के फूलों की माला पहनाएं और लाल लंगोट बांधें। यह प्रयोग हनुमान जयंती से लेकर अगले 11 पूर्णिमा तक करें।

लाल झंडा

हनुमान जयंती के दिन किसी भी हनुमान मंदिर के शिखर पर तिकोना लाल झंडा लगाएं। कहा जाता है कि इससे हर जगह जीत हासिल होती है। जीवन के सभी संकट दूर होते हैं और शत्रु पर विजय प्राप्त होती है।

मीठा पान

महाबली हनुमान को मीठा पान बहुत प्रिय है। ऐसे में हनुमान जयंती के दिन अंजनी पुत्र हनुमान जी को मीठे पान का भोग लगाएं। पान में पांच तरह की चीजें होनी चाहिए। कत्था, गुलकंद, खोपरा, सौंफ और गुलाबकतरी। एक बात का ध्यान रखें कि इसमें चूना, सुपारी जैसी चीजें बिल्कुल नहीं होनी चाहिए। इस पान से हनुमानजी शीघ्र प्रसन्न होते हैं।

आंकड़े के पत्तों की माला

इस दिन सफेद आंकड़े के 21 पत्तों पर केसर व चंदन से श्री राम लिखकर उनकी माला बनाकर हनुमानजी (Hanumanji) को पहनाएं। इस प्रयोग से भाग्य के रास्ते में आ रही सभी बाधाएं समाप्त होती हैं और व्यक्ति के जीवन में कायमाबी के द्वार खुलते चले जाते हैं।

यह भी पढ़ें – कामदा एकादशी 2022: कब है कामदा एकादशी का व्रत? जानिए तिथि, मुहूर्त, पारण का समय और महत्व

यह भी पढ़ें – हनुमान जयंती 2022: इस साल कब है हनुमान जयंती? जानिए तिथि, शुभ मुहूर्त और पूजा का महत्व

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Latest Update

Latest Update