Global Statistics

All countries
593,667,570
Confirmed
Updated on August 13, 2022 3:23 am
All countries
563,959,019
Recovered
Updated on August 13, 2022 3:23 am
All countries
6,450,076
Deaths
Updated on August 13, 2022 3:23 am

Global Statistics

All countries
593,667,570
Confirmed
Updated on August 13, 2022 3:23 am
All countries
563,959,019
Recovered
Updated on August 13, 2022 3:23 am
All countries
6,450,076
Deaths
Updated on August 13, 2022 3:23 am

Holi 2022: होलिका दहन की रात करे हनुमान जी की विशेष पूजा, संकटमोचन दूर करेंगे सभी संकट

- Advertisement -
- Advertisement -

Holi Upay 2022: फाल्गुन मास की पूर्णिमा के दिन पूरे देश में होली का पर्व धूमधाम से मनाया जाता है। होली हिंदुओं का दो दिवसीय त्योहार है और होली की पूर्व संध्या को ‘होलिका दहन’ के नाम से जाना जाता है। रंग वाली होली शुक्रवार, 18 मार्च को मनाई जाएगी। यानी होली का दहन गुरुवार 17 मार्च को किया जाएगा। होली उन त्योहारों में से एक है, जो सभी धार्मिक भेदभावों को भूलकर खेला जाता है। होली का यह त्योहार भाईचारे व समानता के संदेश को बढ़ावा देता है। होलिका दहन का बहुत ही विशेष महत्व है। होलिका दहन की रात हनुमान जी की पूजा के लिए बेहद खास मानी जाती है। ऐसा माना जाता है कि होलिका दहन की रात अगर हनुमान जी की पूरी श्रद्धा और भक्ति के साथ पूजा-अर्चना की जाए तो सभी प्रकार के कष्टों से मुक्ति मिल जाती है। होलिका दहन के दिन हनुमान जी की पूजा करते समय विशेष बातों का ध्यान रखना चाहिए। आइए जानते हैं होलिका दहन की रात को किस विधि से हनुमान जी की पूजा करनी चाहिए। जिससे हनुमान जी की विशेष कृपा प्राप्त हो।

Holi Upay 2022: होली के दिन ऐसे करें हनुमान जी की पूजा

होलिका दहन की रात यदि भक्त हनुमान जी की पूजा से साथ कुछ विशेष उपाय (Holi Upay) करते हैं तो उन्हें इसका शुभ फल प्राप्त होता है। मान्यता है कि होलिका दहन की रात हनुमान जी की विशेष पूजा करने से सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं। आइए जानते हैं हनुमान जी की पूजा विधि के बारे में।

पूजा से पहले करें ये काम

होलिका दहन की रात हनुमान जी की पूजा करने से पहले स्नान आदि से निवृत्त हो जाएं और उसके बाद मंदिर में या घर में ही हनुमान जी के सामने बैठकर पूजा का संकल्प लें।

हनुमान जी को चढ़ाएं ये चीजें

संकल्प लेने के बाद हनुमान जी को सिंदूर, चमेली का तेल, फूलों का हार, प्रसाद और चोला चढ़ाएं और उनके सामने घी का दीपक जलाएं। दीप जलाकर हनुमान चालीसा और बजरंग बाण का पाठ करें और अंत में हनुमान जी की आरती करें।

हनुमान चालीसा (Hanuman Chalisa) का पाठ करने के लाभ

हनुमान चालीसा का पाठ करने से सभी प्रकार के कष्टों से मुक्ति मिलती है। बजरंग बाण के नियमित पाठ से आत्मविश्वास और साहस में वृद्धि होती है। चालीसा का पाठ करने के साथ-साथ लाल रंग का चंदन हनुमान जी को भी लगाया जा सकता है।

हनुमान जी को लाल और पीले फूल बहुत प्रिय हैं

होलिका दहन की रात को भगवान हनुमान की पूजा करते हुए लाल और पीले फूल चढ़ाने चाहिए। संकटमोचन हनुमान जी को लाल रंग बहुत प्रिय है। वे जल्द ही खुश हो जाते हैं और साथ ही साथ आपको आर्थिक तंगी से भी छुटकारा मिल जाता है।

यह भी पढ़ें –  Ram Navami 2022: साल 2022 में कब है राम नवमी, जानिए तिथि, शुभ मुहूर्त, पूजा विधि, महत्व और बहुत कुछ

यह भी पढ़ें – Buddha Purnima 2022: 2022 में कब है बुद्ध पूर्णिमा, जाने कौन है गौतम बुद्ध, कैसे हुई बुद्धत्व की प्राप्ति

यह भी पढ़ें – Rang Panchami 2022: 2022 में कब है रंग पंचमी, तिथि, महत्व और पौराणिक कथा सहित बहुत कुछ

यह भी पढ़ें – Holi 2022: वर्ष 2022 में कब है होली ? जानिए होलिका दहन का शुभ मुहूर्त, तिथि और पौराणिक कथा सहित बहुत कुछ

यह भी पढ़ें – महाशिवरात्रि 2022: 2022 में कब है महाशिवरात्रि? जानें तिथि, शुभ मुहूर्त और पूजन विधि सहित बहुत कुछ

यह भी पढ़ें – 2022 में दीपावली कब है, जानिए तिथि, शुभ मुहूर्त, पूजा विधि, महत्व और पौराणिक कथा सहित बहुत कुछ

2 COMMENTS

  1. Hmm it looks like your site ate my first comment (it was super long) so I guess I’ll just sum it up what I had written and say, I’m thoroughly enjoying your blog. I too am an aspiring blog writer but I’m still new to everything. Do you have any tips and hints for beginner blog writers? I’d really appreciate it.

Leave a Reply

spot_imgspot_img
spot_img

Latest Articles