Global Statistics

All countries
625,650,593
Confirmed
Updated on October 7, 2022 1:37 pm
All countries
603,848,422
Recovered
Updated on October 7, 2022 1:37 pm
All countries
6,557,989
Deaths
Updated on October 7, 2022 1:37 pm

Global Statistics

All countries
625,650,593
Confirmed
Updated on October 7, 2022 1:37 pm
All countries
603,848,422
Recovered
Updated on October 7, 2022 1:37 pm
All countries
6,557,989
Deaths
Updated on October 7, 2022 1:37 pm

Warning: Trying to access array offset on value of type bool in /homepages/40/d912903600/htdocs/clickandbuilds/Bhagymat/wp-content/plugins/td-cloud-library/state/single/tdb_state_single.php on line 285

Warning: Trying to access array offset on value of type bool in /homepages/40/d912903600/htdocs/clickandbuilds/Bhagymat/wp-content/plugins/td-cloud-library/state/single/tdb_state_single.php on line 285

Warning: Trying to access array offset on value of type bool in /homepages/40/d912903600/htdocs/clickandbuilds/Bhagymat/wp-content/plugins/td-cloud-library/state/single/tdb_state_single.php on line 285

Warning: Trying to access array offset on value of type bool in /homepages/40/d912903600/htdocs/clickandbuilds/Bhagymat/wp-content/plugins/td-cloud-library/state/single/tdb_state_single.php on line 285

Warning: Trying to access array offset on value of type bool in /homepages/40/d912903600/htdocs/clickandbuilds/Bhagymat/wp-content/plugins/td-cloud-library/state/single/tdb_state_single.php on line 285

केरल: प्रेमी ने महिला को 10 साल कमरे में रखा कैद, फिर भी दोनों खुश, महिला आयोग ने कहा-अविश्वसनीय

- Advertisement -

Kerala: मंगलवार को केरल महिला आयोग (Kerala Women’s Commission) की अध्यक्ष एमसी जोसफीने ने कहा कि एक महिला को उसके प्रेमी द्वारा कैद रखना किसी कीमत पर जायज नहीं ठहराया जा सकता है।

एमसी जोसफीने ने एक शख्स द्वारा दस साल तक अपनी प्रेमिका को एक कमरे में छुपाकर रखने को ‘अविश्वसनीय’ और ‘रहस्यमय’ करार दिया है।

जोसफीने ने जोड़े से यहां मुलाकात करने के बाद कहा कि अपनी जिंदगी में रहमान और सजिता ने कोई समस्या होने की बात स्वीकार नहीं की है। और कहा है कि शांति से वे अपना शेष जीवन जीना चाहते हैं।

माता-पिता ने 10 साल पहले कराई थी गुमशुदगी दर्ज

आयोग की प्रमुख ने कहा कि जब महिला के माता-पिता ने 10 साल पहले गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराई थी। तब महिला का पता लगाने में पुलिस ने ज्यादा गंभीरता नहीं दिखाई।

पिछले हफ्ते इस घटना में महिला आयोग ने स्वत: मामला दर्ज किया था और कहा था कि इस तरह से एक महिला को कमरे में बंद करना जहां जहां उसकी बुनियादी आवश्यकताओ को पूरा करने की भी सुविधा न हो। मानवाधिकारों का घोर उल्लंघन है। पत्रकारों से जोसफीने ने कहा कि पिछले 10 साल से एक महिला को कैद रखा गया था। किसी भी कीमत पर इसे जायज नहीं ठहराया जा सकता है। चाहे सुविधाएं जितनी भी दी जाएं। पर उनका दावा है की वे खुश हैं।

ऐसा रहमान व सजिता ने डर के मारे किया

रहमान और सजिता ने इससे पहले आयोग के सदस्यों से कहा था कि मामले को परिवार और समाज के गुस्से के डर से छुपाना पड़ा। पुलिस के अनुसार 10 साल तक एक कमरे में महिला को रखने के वक्त उसका पूरा ध्यान उस व्यक्ति ने रखा।

पुलिस के अनुसार मामला तीन महीने पहले उसके प्रेमी के घर से लापता होने की जांच के बाद सामने आया। उन्होंने कहा कि महिला भी उसके साथ गई थी। नेम्मारा के पास एक छोटे से गांव वितनास्सेरी के एक किराए के घर पर महिला और पुरुष पिछले हफ्ते मिले थे।

पुलिस ने कहा कि प्रेमी के साथ महिला को जाने दिया गया क्योंकि अदालत को उसने बताया कि उन दोनों ने एक साथ रहने का निर्णय किया है।

यह भी पढ़ें- उत्तरप्रदेश: बारिश से निर्माणाधीन मकान की छत गिरी, 3 बच्चों की मौत, 6 घायल

Leave a Reply

spot_imgspot_img
spot_img

Latest Articles