Global Statistics

All countries
593,578,576
Confirmed
Updated on August 13, 2022 1:23 am
All countries
563,840,634
Recovered
Updated on August 13, 2022 1:23 am
All countries
6,449,603
Deaths
Updated on August 13, 2022 1:23 am

Global Statistics

All countries
593,578,576
Confirmed
Updated on August 13, 2022 1:23 am
All countries
563,840,634
Recovered
Updated on August 13, 2022 1:23 am
All countries
6,449,603
Deaths
Updated on August 13, 2022 1:23 am

महाशिवरात्रि 2022: शिवरात्रि और महाशिवरात्रि में क्या है अंतर, क्यों मनाया जाता है यह पर्व?

- Advertisement -
- Advertisement -

Mahashivratri Kab Hai 2022: महाशिवरात्रि हिंदुओं का प्रमुख धार्मिक त्योहार है। यह पर्व फाल्गुन मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को मनाया जाता है। इस बार महाशिवरात्रि (Maha Shivratri) 1 मार्च को मनाई जाएगी। महाशिवरात्रि (Maha Shivratri) के ही दिन भगवान भोलेनाथ और माता पार्वती का विवाह हुआ था। इस दिन शिव भक्त उपवास रखते हैं और भगवान शिव की पूजा करते हैं। महाशिवरात्रि के दिन देवी पार्वती और शिव की पूजा करने वाले भक्तों पर भगवान भोलेनाथ शीघ्र ही प्रसन्न हो जाते हैं। वैसे तो भोले शंकर की पूजा के लिए हर दिन शुभ होता है। लेकिन सावन सोमवार, शिवरात्रि और महाशिवरात्रि का अलग-ही महत्व है। इस दिन भगवान भोलेनाथ की पूजा करने से भक्तों को विशेष लाभ मिलता है। महाशिवरात्रि के दिन देश भर के सभी शिव मंदिरों में भक्तों की भारी भीड़ रहती है। शिवरात्रि और महाशिवरात्रि के दिन भगवान शिव के भक्तों के लिए बेहद खास होते हैं। तो आइए आज जानते हैं शिवरात्रि और महाशिवरात्रि में क्या अंतर है…

Mahashivratri Kab Hai 2022 – शिवरात्रि और महाशिवरात्रि में अंतर

कई लोग महाशिवरात्रि को शिवरात्रि भी कहते हैं, लेकिन ऐसा नहीं है। ये दोनों त्योहार अलग-अलग महीनों और दिनों में आते हैं। बहुत से लोग अभी भी नहीं जानते हैं कि शिवरात्रि और महाशिवरात्रि में क्या अंतर है।

महाशिवरात्रि

महाशिवरात्रि साल में एक बार ही आती है। यह धार्मिक त्योहार फाल्गुन, महाशिवरात्रि के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को पड़ता है। भगवान भोलेनाथ के भक्त इस दिन को श्रद्धा और पूरे उल्लास के साथ मनाते हैं। इस दिन, भक्त अपने आराध्य देवता भगवान शिव का आशीर्वाद पाने के लिए मंदिर जाते हैं।

शिवरात्रि

वैसे तो भगवान शिव व माता पार्वती की पूजा हेतु प्रत्येक दिन खास होता है, लेकिन शिवरात्रि के पर्व का शिव भक्तों के लिए भी खास महत्व है। शिवरात्रि हर महीने के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि को पड़ती है।

क्यों मनाई जाती है (Mahashivratri) महाशिवरात्रि?

फाल्गुन मास में कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को भगवान शिव और माता पार्वती का विवाह हुआ था। इसलिए यह त्योहार शिव और पार्वती के विवाह के उपलक्ष्य में मनाया जाता है। इसलिए शिव भक्त इस दिन को बेहद खास मानते हैं।

यह भी पढ़ें –  Ram Navami 2022: साल 2022 में कब है राम नवमी, जानिए तिथि, शुभ मुहूर्त, पूजा विधि, महत्व और बहुत कुछ

यह भी पढ़ें – Buddha Purnima 2022: 2022 में कब है बुद्ध पूर्णिमा, जाने कौन है गौतम बुद्ध, कैसे हुई बुद्धत्व की प्राप्ति

यह भी पढ़ें – Rang Panchami 2022: 2022 में कब है रंग पंचमी, तिथि, महत्व और पौराणिक कथा सहित बहुत कुछ

यह भी पढ़ें – Holi 2022: वर्ष 2022 में कब है होली ? जानिए होलिका दहन का शुभ मुहूर्त, तिथि और पौराणिक कथा सहित बहुत कुछ

यह भी पढ़ें – महाशिवरात्रि 2022: 2022 में कब है महाशिवरात्रि? जानें तिथि, शुभ मुहूर्त और पूजन विधि सहित बहुत कुछ

यह भी पढ़ें – 2022 में दीपावली कब है, जानिए तिथि, शुभ मुहूर्त, पूजा विधि, महत्व और पौराणिक कथा सहित बहुत कुछ

4 COMMENTS

  1. I keep listening to the news update lecture about getting free online grant applications so I have been looking around for the finest site to get one. Could you advise me please, where could i acquire some?

Leave a Reply

spot_imgspot_img
spot_img

Latest Articles