Global Statistics

All countries
261,926,083
Confirmed
Updated on November 29, 2021 7:22 PM
All countries
234,821,824
Recovered
Updated on November 29, 2021 7:22 PM
All countries
5,220,328
Deaths
Updated on November 29, 2021 7:22 PM

Global Statistics

All countries
261,926,083
Confirmed
Updated on November 29, 2021 7:22 PM
All countries
234,821,824
Recovered
Updated on November 29, 2021 7:22 PM
All countries
5,220,328
Deaths
Updated on November 29, 2021 7:22 PM

Mantra Jaap: पूजा करते वक्त आपसे हो जाए गलती, तो पूजा के अंत में अवश्य करें इस मंत्र का जाप

Mantra Jaap: हिन्दू धर्म ग्रंथों में 33 कोटी देवी देवताओं का वर्णन मिलता है। इन सभी देवी देवताओं की पूजा का विशेष महत्व है। सभी देवताओं की अलग-अलग पूजा पद्धति का वर्णन है। वैसे मुख्य देवताओं में पांच देवताओं का वर्णन मिलता है। जिनकी हर शुभ कार्य में विशेष पूजा की जाती है। जैसा कि हम जानते हैं कि एक-दूसरे से हर देवता की उपासना पद्धति कुछ भिन्न होती है। और ऐसी मान्यता है कि पूजा का पूर्ण फल इस भिन्न-भिन्न पूजा पद्धति के आधार पर ही मिलता है। पर कई बार ऐसा होता है कि पूजा करते वक्त कभी-कभी कोई गलती हम कर देते हैं। और ऐसे में यह डर हमारे मन में बना रहता है कि अब भगवान हमसे नाराज हो जाएंगे या हमें शुभ फल नहीं मिलेगा। आइए आज हम आपको एक ऐसे मंत्र के बारे में बताते हैं। जिसे पूजा के अंत में करने से सभी देवता प्रसन्न हो जाते हैं। आइए जानते हैं क्या है वह मंत्र-

क्षमा मंत्र

जब भी पूजा करें तो आखिरी में निम्न क्षमा मंत्र का जाप अवश्य करें-

अपराधसहस्त्राणि क्रियन्तेऽहर्निशं मया।
दासोऽयमिति मां मत्वा क्षमस्व परमेश्वर।।
गतं पापं गतं दु:खं गतं दारिद्रय मेव च।
आगता: सुख-संपत्ति पुण्योऽहं तव दर्शनात्।।

इसका अर्थ है – हे प्रभु। मेरे द्वारा दिन-रात हजारों अपराध किए जा रहे हैं। यह मेरा दास है – ऐसा समझकर मेरे उन पापों को क्षमा कर दे। आपके दर्शन से मेरे पाप-दुख का नाश हो, मेरी दरिद्रता दूर हो और मुझे सुख-समृद्धि मिले। ऐसा वरदान दे।

इन बातों का भी रखें ध्यान

  • इस मंत्र का जाप करते समय इन बातों का ध्यान रखना जरूरी है-
  • इस क्षमा मंत्र का जाप प्रत्येक पूजा के आखिरी में जरूर करें। इससे भगवान की कृपा आप पर बनी रहेगी।
  • अगर आप किसी देवी (Goddess) की पूजा किसी देवता (God) की जगह पर कर रहे हैं। तो भगवान के स्थान पर परमेश्वरी बोलें (Parameshwari) ।
  • यदि आप देवी (Goddess) की पूजा कर रहे हैं तो परमेश्वर की जगह परमेश्वरी (Parameshwari) बोलें।
  • मंत्र जाप (Mantra Jaap) करते वक्त किसी के प्रति कोई गलत भावना नहीं लाएं।
  • आप खाम मंत्र का जाप जिस देवता के लिए कर रहे हैं। तो उस देवता की छवि को मन में रखकर जाप करें।

यह भी पढ़ें – Tulsi Ke Upay: घर में स्थापित तुलसी देती है शुभ और अशुभ संकेत, रखें इन बातों का ध्यान

यह भी पढ़ें – पीपल के उपाय: ये आसान उपाय दिलाएंगे, शनि और पितृ दोष से मुक्ति, घर में बनी रहेगी सुख-समृद्धि

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

RECENT UPDATED