महान धावक मिल्खा सिंह (Milkha Singh) की पत्नी निर्मल मिल्खा सिंह का कोरोना की वजह से निधन हो गया है। निर्मल मिल्खा ने रविवार शाम चार बजे अंतिम सांस ली। निर्मल मिल्खा 85 वर्ष की थीं। वह भारतीय महिला वालीबॉल टीम की पूर्व कप्तान व पंजाब सरकार में पूर्व खेल निदेशक (महिला) थीं। उन्हें कोरोना संक्रमित होने के बाद मोहाली के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। पीजीआई चंडीगढ़ में आईसीयू में मिल्खा सिंह भर्ती हैं। इसी कारण अंतिम संस्कार में मिल्खा सिंह शामिल नहीं हो सके।

मिल्खा सिंह के स्वास्थ्य में सुधार

मिल्खा सिंह (Milkha Singh) के स्वास्थ्य में लगातार सुधार हो रहा है। अन्य पैरामीटर भी संक्रमण के दौरान बढ़े हुए धीरे-धीरे सामान्य हो रहे हैं। मिल्खा सिंह को पीजीआई के आईसीयू यूनिट-1 में बनाए गए आइसोलेशन रूम में रखा गया है। पिछले हफ्ते मिल्खा सिंह की  पीजीआई में भर्ती होने के बाद दोबारा कोरोना जांच की गई थी। जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। फिर से कोरोना जांच अगले कुछ दिनों में की जाएगी।

मिल्खा सिंह 19 मई को रसोइए की वजह से संक्रमित हो गए थे

19 मई को मिल्खा सिंह (Milkha Singh) अपने रसोइए के कारण संक्रमित हो गए थे। उन्हें मोहाली के फोर्टिस अस्पताल में 24 मई को भर्ती कराया गया था। उनकी पत्नी निर्मल मिल्खा सिंह (85) को भी संक्रमण के चलते 26 मई को इसी अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा था।

मिल्खा सिंह (Milkha Singh) को 30 मई को परिवार के अनुरोध पर छुट्टी दे दी गई। जिसके बाद मिल्खा सिंह सेक्टर-8 स्थित अपनी कोठी में ही रहे। अचानक 3 जून को तबीयत बिगड़ने के कारण मिल्खा सिंह को पीजीआई में भर्ती कराना पड़ा। तब से वह यहीं उपचाराधीन हैं। दुबई से 22 मई को उनके बेटे मशहूर गोल्फर जीव मिल्खा सिंह भी भारत आ गए थे। गोल्फर जीव मिल्खा सिंह भी पिता की देखभाल में लगे हैं। पर
फोर्टिस अस्पताल में ही निर्मल मिल्खा सिंह भर्ती थीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *