Global Statistics

All countries
625,650,593
Confirmed
Updated on October 7, 2022 1:37 pm
All countries
603,848,422
Recovered
Updated on October 7, 2022 1:37 pm
All countries
6,557,989
Deaths
Updated on October 7, 2022 1:37 pm

Global Statistics

All countries
625,650,593
Confirmed
Updated on October 7, 2022 1:37 pm
All countries
603,848,422
Recovered
Updated on October 7, 2022 1:37 pm
All countries
6,557,989
Deaths
Updated on October 7, 2022 1:37 pm

Mothers Day 2022: मदर्स डे की शुरुआत कब और क्यों हुई, जाने मां से जुड़े इस दिन के इतिहास के बारे में

- Advertisement -

Mothers Day 2022: मां और बच्चे के बीच का रिश्ता दुनिया में सबसे अहम और अनमोल होता है। मां से रिश्ता होने के बाद ही कोई बच्चा बड़ा होने तक अपने जीवन में और भी कई रिश्ते अपना सकता है। मां का प्यार और स्नेह हर इंसान के लिए बहुत जरूरी होता है। मां बच्चे की इस जरूरत को बिना किसी स्वार्थ के पूरा करती है। वैसे तो एक मां अपने बच्चे पर अपना पूरा जीवन कुर्बान कर देती है। संतान के सुख में सुख और तकलीफों में दर्द बांटती है। ऐसे में बच्चे अपनी मां के लिए कुछ खास करना चाहते हैं। इस मां के प्यार और स्नेह का सम्मान करने के लिए एक विशेष दिन है। इस दिन को मदर्स डे कहा जाता है। मदर्स डे हर साल मई महीने के दूसरे रविवार को मनाया जाता है। इस साल 8 मई को मदर्स डे (Mothers Day) मनाया जा रहा है। लोग इस दिन अपनी मां को विशेष महसूस कराने की कोशिश करते हैं और उनके जीवन में मां की क्या भूमिका है और वे भी मां से प्यार करते हैं। सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि कई अन्य देशों में भी मदर्स डे बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि मदर्स डे मई महीने के दूसरे रविवार (Sunday) को ही क्यों मनाया जाता है? मदर्स डे कब और क्यों मनाया जाने लगा? आइए जानते हैं इस खास दिन से जुड़े मदर्स डे का इतिहास, महत्व और कहानी।

मदर्स डे कब मनाया जाता है?

पूरी दुनिया में मई महीने के दूसरे रविवार को मदर्स डे (Mothers Day) मनाया जाता है। साल 2022 में 8 मई को मदर्स डे मनाया जा रहा है। इस दिन का उत्सव औपचारिक रूप से 1914 में शुरू किया गया था।

मदर्स डे सबसे पहले किसने मनाया?

दरअसल, मदर्स डे मनाने की शुरुआत एना जार्विस नाम की एक अमेरिकी महिला ने की थी। एना ने अपनी माँ को आदर्श माना और उसे बहुत प्यार करती थी। जब एना की मां की मृत्यु हो गई, तो उसने कभी शादी न करने का फैसला करते हुए अपना जीवन अपनी मां को समर्पित कर दिया। उन्होंने मां को सम्मान देने के लिए मदर्स डे मनाना शुरू किया। उन दिनों यूरोप में इस खास दिन को मदरिंग संडे कहा जाता था।

मई में रविवार को ही मदर्स डे क्यों मनाया जाता है?

एना के इस कदम के बाद तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति वुड्रो विल्सन ने औपचारिक रूप से 9 मई 1914 को मदर्स डे मनाना शुरू कर दिया था। इस विशेष दिन के लिए अमेरिकी संसद में एक कानून पारित किया गया था। जिसके बाद मई के दूसरे रविवार को मदर्स डे मनाने का फैसला किया गया। बाद में, यूरोप, भारत और अमेरिका समेत कई अन्य देशों ने मई के दूसरे रविवार को मदर्स डे मनाने की मंजूरी दी।

मदर्स डे मनाने की वजह?

बच्चे अपनी माँ को विशेष महसूस कराने, उसके मातृत्व और प्यार का सम्मान करने के उद्देश्य से मदर्स डे मनाते हैं। पिछले कुछ दशकों में मां को समर्पित इस दिन को बेहद खास तरीके से मनाया जाता है। इस दिन लोग अपनी मां के साथ समय बिताते हैं। उनके लिए कोई तोहफा या कोई सरप्राइज प्लान करें। पार्टी का आयोजन करें और माँ को अपने प्यार और स्नेह का इजहार करते हुए बधाई देते है।

Leave a Reply

spot_imgspot_img
spot_img

Latest Articles