Chaitra Navratri 2022: अगर आप भी रखते हैं नवरात्रि व्रत तो रखें इन बातों का ध्यान, जानिए क्या हैं व्रत के नियम?

Navratri Fasting Rules: इस बार माता आदिशक्ति की उपासना का पावन पर्व यानि चैत्र नवरात्रि का पावन पर्व 02 अप्रैल से शुरू हो रहा है, जो 11 अप्रैल तक मनाया जाएगा। नवरात्रि में नौ दिनों तक मां दुर्गा के विभिन्न रूपों की पूजा की जाती है। हिंदू धर्म में नवरात्रि का विशेष महत्व है। ऐसा माना जाता है कि नवरात्रि के दौरान मां दुर्गा धरती पर विचरण करती हैं और अपने भक्तों की सभी मनोकामनाएं पूरी करती हैं। भक्त इन नौ दिनों में मां रानी को प्रसन्न करने के लिए व्रत रखते हैं और विधि-विधान से उनकी पूजा करते हैं। ऐसा माना जाता है कि अगर नवरात्रि में सच्चे मन से मां दुर्गा की पूजा की जाए तो व्यक्ति की सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं। साथ ही इन दिनों में व्रत रखने से विशेष फल मिलता है। हालांकि नवरात्रि के व्रत में नियम और संयम का विशेष महत्व है। कहा जाता है कि नवरात्रि के व्रत में कुछ नियमों का पालन करना जरूरी होता है। शास्त्रों में भी नवरात्रि व्रत के संबंध में कुछ नियम (Navratri Fasting Rules) बताए गए हैं, जिन्हें अपनाने से मां दुर्गा प्रसन्न होती हैं। आइए जानते हैं उन नियमों के बारे में…

Navratri Fasting Rules –

नवरात्रि उपवास के लाभ

शास्त्रों में भी नवरात्रि व्रत की महिमा का उल्लेख मिलता है। ऐसा माना जाता है कि जो लोग नवरात्रि का व्रत रखते हैं उन्हें मां दुर्गा की कृपा से सुख, शांति और समृद्धि की प्राप्ति होती है। इसके साथ ही मां जगदम्बा अपने भक्त पर विशेष कृपा बनाए रखती हैं। कुछ भक्त पूरे 9 दिनों तक व्रत रखते हैं, जबकि कुछ लोग केवल चढ़ती-उतरती का व्रत रखते हैं। नवरात्रि के दौरान उपवास रखने के कुछ नियम हैं, जो व्रत रखने वालों को पता होना चाहिए।

धार्मिक शास्त्रों के अनुसार नवरात्रि का व्रत करने वाले व्यक्ति को पलंग की बजाय जमीन पर ही सोना चाहिए। यदि आप जमीन पर नहीं सो सकते हैं, तो आप लकड़ी के तख़्त पर सो सकते हैं।

नवरात्रि के व्रत में अधिक भोजन नहीं करना चाहिए। इस दौरान आप फलों के अलावा एक प्रकार का अनाज का उपयोग कर सकते हैं। साथ ही नमक का प्रयोग नहीं करना चाहिए।

नवरात्रि का व्रत करने वाले को ब्रह्मचर्य का पालन करना चाहिए। साथ ही व्रत करने वाले व्यक्ति को काम, क्रोध, लोभ और मोह से दूर रहना चाहिए।

ऐसा माना जाता है कि व्रत रखने वाले व्यक्ति को झूठ बोलने से बचना चाहिए और हमेशा सत्य का पालन करना चाहिए। इसके अलावा व्रत के दौरान बार-बार पानी पीने से बचना चाहिए और गुटखा, तंबाकू आदि का सेवन नहीं करना चाहिए।

नवरात्रि व्रत का पालन करने वाले व्यक्ति को नौ दिनों तक मां दुर्गा की पूजा करने के बाद अपने इष्ट देव का ध्यान अवश्य करना चाहिए।

यह भी पढ़ें – Chaitra Navratri 2022: नवरात्रि पर ना पहनें इस रंग के कपड़े, माँ दुर्गा हो जाएंगी नाराज

यह भी पढ़ें – चैत्र नवरात्रि 2022: माता रानी को प्रसन्न करने के लिए नवरात्रि के इन नौ दिनों में क्या करें और क्या न करें, जाने

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Latest Update

Latest Update