Global Statistics

All countries
332,116,632
Confirmed
Updated on January 18, 2022 4:17 pm
All countries
267,167,794
Recovered
Updated on January 18, 2022 4:17 pm
All countries
5,566,118
Deaths
Updated on January 18, 2022 4:17 pm

अजब-गजब: 1 रुपये का ये दुर्लभ सिक्का 10 करोड़ में बिका, इस तरह आप भी बेच सकते हैं अपने पुराने सिक्के

Numismatist: हमारे आसपास कई ऐसे लोग होते हैं। जिन्हें पुराने सिक्के जमा करने का खास शौक होता है। ऐसे शौक रखने वाले लोगों को न्यूमिज़माटिस्ट (Numismatist) कहा जाता है। इन प्राचीन सिक्कों और नोटों के अंदर कई खास बातें हैं। इसी वजह से कई बार इन्हें बहुत ऊंचे दामों पर बोली लगाकर खरीद लिया जाता है। अगर आपके पास भी किसी तरह का दुर्लभ सिक्का या नोट है तो आपको भी बाजार में उसकी अच्छी कीमत मिल सकती है। आप इन प्राचीन सिक्कों को कई ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर खरीद और बेच सकते हैं।

इसी कड़ी में इन दिनों एक खबर खूब सुर्खियां बटोर रही है। हाल ही में करीब 10 करोड़ की बोली लगाकर एक दुर्लभ सिक्का खरीदा गया है। यह खबर देश-दुनिया में तेजी से वायरल हो रही है। रिपोर्ट्स के मुताबिक एक शख्स को एक रुपये के पुराने सिक्के के बदले 10 करोड़ रुपये मिले हैं। इस दुर्लभ सिक्के को ऑनलाइन नीलामी में खरीदा गया है। जो भी इस खबर को सुन रहा है वह हैरान है। आइए जानते हैं इसके बारे में विस्तार से-

रिपोर्ट के मुताबिक नीलामी में यह सिक्का 10 करोड़ में खरीदा गया है। सिक्के की कई खास विशेषताएं हैं। जो इसे दुर्लभ बनाती हैं। 1 रुपए का यह सिक्का ब्रिटिश भारत के समय का है। इसका निर्माण वर्ष 1885 में किया गया था। यह एक बड़ा कारण है। जिसके कारण इसे इतनी अधिक कीमत पर खरीदा गया था।

इस सिक्के को बेचने वाला व्यक्ति बेहद खुश है। उन्होंने इस प्राचीन सिक्के को एक ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर बेचा है। अगर आपके पास भी है ऐसा खास सिक्का तो आप भी बन सकते हैं अमीर। इन ऑनलाइन वेबसाइटों पर दुर्लभ सिक्कों के बहुत अच्छे दाम मिलते हैं।

इन सिक्कों को बेचने से पहले आपको इन प्लेटफॉर्म पर रजिस्ट्रेशन करना होगा। इसके लिए आपको उस प्लेटफॉर्म पर बेसिक जानकारी देनी होगी। रजिस्टर करने के बाद आप उन दुर्लभ सिक्कों या नोटों की तस्वीरें खींच सकते हैं। और उन्हें उन प्लेटफॉर्म पर डालकर बेच सकते हैं। अगर आपके सिक्के में कुछ खास होता है तो इसकी नीलामी भी करोड़ों रुपये में हो सकती है।

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि इस तरह के सौदे में आरबीआई की कोई भूमिका नहीं होती है। इसमें विक्रेता और खरीदार आपसी विश्वास पर एक दूसरे से चीजें खरीदते और बेचते हैं। आरबीआई ऐसी खरीद और बिक्री को प्रोत्साहित नहीं करता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Latest Update