पूजा में इन धातु के पात्रों का भूलकर भी न करें प्रयोग, वरना होगा उल्टा असर, देवता भी हो सकते हैं नाराज

- Advertisement -

Puja Niyam – हिंदू धर्म में पूजा का विशेष महत्व है। मान्यता है कि इनकी पूजा करने से भक्तों पर हमेशा देवताओं की कृपा बनी रहती है। इसके साथ ही लोग मन की शांति के लिए पूजा भी करते हैं। इसके साथ ही मनोकामना पूर्ति के लिए लोग पूजा के माध्यम से भगवान को प्रसन्न करने का भी प्रयास करते हैं। कहा जाता है कि पूजा करने से भगवान अपने भक्तों पर प्रसन्न होते हैं और उन्हें मनचाहा वरदान देते हैं। जिस घर में नियमित देवी-देवताओं की पूजा की जाती है। उस घर में भगवान का वास होता है। हालांकि पुराणों में यह भी कहा गया है कि अगर पूजा करते समय जरा सी भी चूक हो जाए तो उस पूजा का फल नहीं मिलता। ऐसे में पूजा करते समय आपको कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए। आइए जानते हैं उन बातों के बारे में जिन पर आपको विशेष ध्यान देना चाहिए…

Puja Niyam –

पूजा के दौरान लोहे का प्रयोग न करें?

पूजा में प्रयोग होने वाले बर्तनों का विशेष ध्यान रखना चाहिए। लोहे में जंग लगने के कारण इन्हें शुद्ध नहीं माना जाता है। इसलिए पूजा में लोहे के बर्तनों का प्रयोग न करे। हालांकि शनिदेव की पूजा में लोहे के बर्तनों का प्रयोग किया जा सकता है।

इन पात्रों का प्रयोग न करें

पूजा और धार्मिक गतिविधियों में लोहा, स्टील और एल्युमिनियम को अशुद्ध धातु माना जाता है। मूर्तियां भी इन धातुओं से नहीं बनती हैं। साथ ही हवा और पानी के कारण लोहे में जंग लग जाता है। एल्युमिनियम धातु के कालिख निकलती है। इसलिए इन धातुओं का प्रयोग बिल्कुल नहीं करना चाहिए।

चांदी का भी प्रयोग न करें

कहा जाता है कि चांदी चंद्र देव का प्रतिनिधित्व करती है। चंद्र देव की पूजा के दौरान उनके आशीर्वाद स्वरूप शीतलता, सुख और शांति प्रदान करता है। लेकिन देवकार्य में चांदी का प्रयोग नहीं करना चाहिए। चांदी खरीदने से समाज के प्रत्येक मनुष्य को भगवान चंद्र देव की कृपा से शीतलता, सुख और शांति की प्राप्ति होती है। इसके बावजूद इसे भगवान के कार्य में अशुभ माना जाता है।

देवताओं के लिए तांबे का प्रयोग करें

धार्मिक मान्यता है कि तांबे देवताओं को बहुत प्रिय होता है। इसलिए किसी भी देवता की पूजा में तांबे के बर्तन का प्रयोग शुभ माना जाता है। तांबे के बर्तन में कुछ भी चढ़ाने से भगवान बहुत प्रसन्न होते हैं। ऐसे में आप पूजा के समय तांबे के बर्तनों का प्रयोग कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें –  दूध के इन उपायों से सभी बाधाएं हो सकती है दूर, मां लक्ष्मी की रहेगी कृपा

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Latest Update

Latest Update