Rajasthan: कोरोना महामारी का डर देश में एक तरफ है। तो राजनेताओं के बोल दूसरी तरफ लोगों के बीच भ्रम का माहौल फैला रहे हैं। कई राजनेताओं ने कोरोना काल के दौरान महामारी से संबंधित अजीबोगरीब बयान देकर सुर्खियां बटोरीं। अब राजस्थान (Rajasthan) के जल और ऊर्जा मंत्री बीडी कल्ला का नाम इसी सूची में शामिल हो गया है।

वैक्सीनेशन को लेकर राजस्थान (Rajasthan) सरकार में मौजूद मंत्री बीडी कल्ला ने एक अलग ही ज्ञान बांटा है। उन्होंने कहा की क्या आपको पता है कि वैक्सीन किसे लगाई जाती है। कोई भी वैक्सीन आज तक अपने देश में सिर्फ बच्चों को लगी है। वैक्सीन बुजुर्गों को कहां लगती है?

आगे कहा कि सबसे पहले बच्चों को ही कोरोना में वैक्सीन लगनी चाहिए। क्योंकि बच्चों का बचना जरूरी होता है। उन्होंने आगे कहा कि बुजुर्गों को मोदी सरकार ने कोरोना की वैक्सीन लगवाना शुरू कर दिया। मंत्री ने कहा की खुद बुजुर्गों को मैंने यह कहते हुए सुना है की 80-85 साल के वैसे भी हो गए हैं। कोरोना से हम मर भी जाएं तो कोई बात नहीं। पर बच्चों का बचना जरूरी है। इसलिए बच्चों को टीका पहले लगाया जाए।

इतना ही नहीं मोदी सरकार की वैक्सीनेशन नीति पर भी मंत्री बीडी कल्ला ने जमकर हमला बोला। कहा की पीएम मोदी की वैक्सीन नीति गलत है। अगर वैक्सीन आई तो वैक्सीन बच्चों को सबसे पहले लगनी चाहिए। पर ऐसा मोदी सरकार ने ऐसा नहीं किया। जिसके कारण समस्या इतनी बढ़ गई।

केंद्रीय मंत्री का पलटवार

हालांकि राजस्थान के मंत्री बीडी कल्ला के बयान पर केंद्रीय जस संसाधन मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने तंज कसा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेताओं का हास्यास्पद ज्ञान और बयान वैक्सीन को लेकर सुन लीजिए। केंद्रीय जस संसाधन मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने आगे कहा की कांग्रेस वैक्सीन राजनीति से अब क्लाउन राजनीति पर आ गई है।

यह भी पढ़ें- ऑडियो वायरल: अनुच्छेद 370 बहाल करने का दावा, पाकिस्तान कांग्रेस का पहला प्यार

यह भी पढ़ें- जम्मू-कश्मीर: 24 घंटे में दूसरा आतंकी हमला, दो जवान शहीद, दो नागरिकों की मौत, दो घायल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *