Global Statistics

All countries
645,807,584
Confirmed
Updated on November 27, 2022 1:01 am
All countries
622,901,051
Recovered
Updated on November 27, 2022 1:01 am
All countries
6,635,646
Deaths
Updated on November 27, 2022 1:01 am

Global Statistics

All countries
645,807,584
Confirmed
Updated on November 27, 2022 1:01 am
All countries
622,901,051
Recovered
Updated on November 27, 2022 1:01 am
All countries
6,635,646
Deaths
Updated on November 27, 2022 1:01 am

इन समस्याओं में शीर्षासन योग है लाभदायक, सिर्फ रोजाना करे 10 मिनट अभ्यास और पाइए लाभ

- Advertisement -

Shirshasana Yoga Benefits: कई वर्षों से विभिन्न प्रकार के स्वास्थ्य लाभों के लिए शीर्षासन या हेडस्टैंड पोज का अभ्यास किया जाता रहा है। हालांकि शीर्षासन (Shirshasana) करना सबसे कठिन योग आसनों में से एक है। हालांकि इसका अभ्यास कई मायनों में स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद माना जाता है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार यह आसन शरीर के लचीलेपन और संतुलन को बेहतर बनाने में विशेष रूप से फायदेमंद माना जाता है। योग विशेषज्ञ इसके नियमित अभ्यास की सलाह देते हैं।

Shirshasana Yoga Benefits: योग विशेषज्ञों के अनुसार इस आसन में परिपक्व होने में आपको समय लग सकता है। इसे किसी विशेषज्ञ की देखरेख में ही शुरू करें। हालांकि जिन लोगों को गर्दन या पीठ की कोई समस्या है। उन्हें इसका अभ्यास नहीं करना चाहिए। आइए जानते हैं शीर्षासन योग करने के स्वास्थ्य लाभों के बारे में।

कोर मसल्स के लिए फायदेमंद

अगर आप अपने कोर को मजबूत करना चाहते हैं। तो शीर्षासन आपके लिए सबसे अच्छे योगाभ्यासों में से एक हो सकता है। इस योग के दौरान आपके कोर की सभी मांसपेशियां सक्रिय हो जाती हैं। जिससे उनमें रक्त संचार को बढ़ावा मिलता है। इस योग के नियमित अभ्यास से आप कोर को मजबूत कर सकते हैं। इस एक्सरसाइज के दौरान शरीर की सभी मांसपेशियां सक्रिय हो जाती हैं।

पाचन स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद

शीर्षासन करने से पाचन से संबंधित अंगों में रक्त का प्रवाह बेहतर होता है ,यही वजह है कि यह अभ्यास पाचन स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। पोषक तत्वों के अवशोषण को बढ़ावा देने और पाचन की दक्षता बढ़ाने के लिए इस योग का अभ्यास किया जा सकता है। इसके अलावा पाचन को नियंत्रित करने वाला पिट्यूटरी अंग भी इस योग के अभ्यास से उत्तेजित होता है।

बालों की समस्या से छुटकारा

योग विशेषज्ञों के अनुसार जो लोग बालों के झड़ने और बालों की कमजोरी की समस्या से परेशान हैं। उनके लिए भी शीर्षासन का अभ्यास फायदेमंद हो सकता है। इस योग को करने से सिर और स्कैल्प में रक्त के प्रवाह में वृद्धि होती है। जिससे बालों के रोम में पोषक तत्वों और ऑक्सीजन का प्रवाह भी बढ़ता है। यह आपके खोपड़ी को स्वस्थ रखने में भी मदद करता है।

यह भी पढ़ें – आंखों से लेकर बेहतर पाचन तक गाजर खाना स्वास्थ्य के लिए ‘वरदान’

यह भी पढ़ें – कीटो डाइट के असर को कम कर सकती हैं ये चार गलतियां, हो सकता है फायदे की जगह नुकसान

अस्वीकरण: भाग्यमत के स्वास्थ्य और फिटनेस श्रेणी में प्रकाशित सभी लेख डॉक्टरों, विशेषज्ञों और शैक्षणिक संस्थानों आधार पर तैयार किए गए हैं। लेख में उल्लिखित तथ्यों और सूचनाओं को भाग्यमत के पेशेवर पत्रकारों द्वारा सत्यापित किया गया है। इस लेख को तैयार करते समय सभी निर्देशों का पालन किया गया है। पाठक की जानकारी और जागरूकता बढ़ाने के लिए संबंधित लेख तैयार किया गया है। भाग्यमत लेख में दी गई जानकारी और जानकारी के लिए दावा या जिम्मेदारी नहीं लेता है। उपरोक्त लेख में वर्णित संबंधित बीमारी के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए अपने चिकित्सक (डॉक्टर) से परामर्श जरूर करें।

Leave a Reply

spot_imgspot_img
spot_img

Latest Articles

%d bloggers like this: