Surya Grahan 2022: सूर्य ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाएं क्या करें और क्या न करें

- Advertisement -

Surya Grahan For Pregnant Ladies: हमारे सौरमंडल में समय-समय पर खगोलीय घटनाएं घटती रहती हैं। सूर्य ग्रहण 2022 और चंद्र ग्रहण भी इन्हीं में से एक है। इन घटनाओं को धर्म और ज्योतिष से जोड़कर भी देखा जाता है। इस बार साल का पहला सूर्य ग्रहण 30 अप्रैल शनिवार को लगने जा रहा है।

Surya Grahan For Pregnant Ladies: 30 अप्रैल को लगने वाला सूर्य ग्रहण भारत में दिखाई नहीं देगा, इसलिए यहां इसका कोई धार्मिक और ज्योतिषीय महत्व नहीं माना जाएगा। लेकिन जिन देशों में ग्रहण दिखाई देगा, वहां के लोगों पर इसका असर जरूर पड़ेगा। हिंदू धर्म में ग्रहण से जुड़ी कई मान्यताएं और परंपराएं प्रचलित हैं। ऐसी ही एक मान्यता है कि ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाओं को बाहर नहीं जाना चाहिए, नहीं तो इसका बच्चे पर अशुभ प्रभाव पड़ सकता है। इस मान्यता के पीछे सिर्फ धार्मिक ही नहीं वैज्ञानिक तथ्य भी छिपे हैं। जानिए इन फैक्ट्स के बारे में…

इसलिए गर्भवती महिला को ग्रहण नहीं देखना चाहिए

हिंदू धर्म के अनुसार सूर्य ग्रहण एक खगोलीय घटना है। जब ग्रहण लगता है तो इस दौरान कई ऐसी तरंगें निकलती हैं, जो सेहत के लिए हानिकारक होती हैं। हालांकि ये तरंगें सभी को प्रभावित करती हैं। लेकिन इसका सबसे ज्यादा नकारात्मक असर गर्भस्थ शिशु पर पड़ता है। वैज्ञानिक तथ्य यह भी कहते हैं कि ग्रहण के दौरान ब्रह्मांड में नकारात्मक ऊर्जा का स्तर पूरी तरह से बढ़ जाता है। इसका सबसे ज्यादा असर गर्भवती महिला पर पड़ता है। यही कारण है कि ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाओं को घर से बाहर निकलने की मनाही होती है।

गर्भवती महिलाएं मंत्र का जाप कर सकती हैं

गर्भवती महिलाओं को घर के अंदर किसी उपयुक्त स्थान पर बैठकर मंत्र का जाप करना चाहिए। इससे उन्हें सकारात्मक ऊर्जा मिलती है। इसका असर गर्भ में पल रहे बच्चे पर भी पड़ता है। यदि आपको कोई मंत्र याद नहीं है, तो आप केवल ॐ का जाप कर सकती हैं। ऐसा करने से पूरे घर में सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह बना रहता है। ओम का जाप करने से स्त्री का मन केवल वही स्वर सुनता है, जो गर्भ में पल रहे बच्चे के लिए अच्छा होता है।

गर्भवती महिलाओं को इन बातों का भी ध्यान रखना चाहिए

1. धार्मिक मान्यताओं के अनुसार गर्भवती महिलाओं को ग्रहण काल ​​में धारदार चीजें जैसे चाकू, कैंची आदि का प्रयोग नहीं करना चाहिए। इसका असर गर्भ में पल रहे बच्चे पर भी पड़ता है।

2. धार्मिक मान्यताओं के अनुसार ग्रहण के दौरान हानिकारक विषाणुओं की संख्या बढ़ जाती है, इसलिए इस दौरान कुछ भी नहीं खाना चाहिए। गर्भवती महिलाओं को अन्य लोगों की तुलना में अधिक भूख लगती है। इसलिए उन्हें ग्रहण से पहले पर्याप्त भोजन करना चाहिए, ताकि ग्रहण के दौरान भूख न लगे।

यह भी पढ़ें – Surya Grahan 2022: शनिश्चरि अमावस्या के दिन सूर्य पर लगेगा ‘ग्रहण’, जानिए राशि अनुसार कैसा होगा असर

यह भी पढ़ें – Surya Grahan 2022: अप्रैल की इस तारीख को लगेगा सूर्य ग्रहण, ये राशियाँ हो सकती हैं भाग्यशाली

यह भी पढ़ें – Solar Eclipse 2022: शनि अमावस्या को लगेगा पहला सूर्य ग्रहण, इन 9 बातों का रखें खास ख्याल

यह भी पढ़ें – Surya Grahan 2022: अप्रैल में ही लगने जा रहा है साल का पहला सूर्य ग्रहण, जानिए तारीख, समय और सावधानियां

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Latest Update

Latest Update