Global Statistics

All countries
229,570,039
Confirmed
Updated on September 21, 2021 01:29
All countries
204,548,232
Recovered
Updated on September 21, 2021 01:29
All countries
4,709,439
Deaths
Updated on September 21, 2021 01:29

Global Statistics

All countries
229,570,039
Confirmed
Updated on September 21, 2021 01:29
All countries
204,548,232
Recovered
Updated on September 21, 2021 01:29
All countries
4,709,439
Deaths
Updated on September 21, 2021 01:29

उत्तराखंड- त्रिवेंद्र सिंह रावत का स्थान लेंगे, गढ़वाल के सांसद तीरथ सिंह रावत

2013 से 2015 तक भाजपा की उत्तराखंड इकाई के प्रमुख के रूप में गढ़वाल के सांसद तीरथ सिंह रावत (Tirath Singh Rawat) ने कार्य किया।

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने बुधवार को उत्तराखंड भाजपा विधायक दल के नेता के रूप में तीरथ सिंह रावत (Tirath Singh Rawat) को चुना। जिससे उन्हें पहाड़ी राज्य का नया मुख्यमंत्री बनने का मार्ग प्रशस्त हुआ। वह त्रिवेंद्र सिंह रावत का स्थान लेंगे जिन्होंने मंगलवार को इस्तीफा दे दिया था। उनके नाम की घोषणा विधायक दल की बैठक के बाद त्रिवेंद्र सिंह रावत ने की, जो लगभग 30 मिनट तक चली।

यह भी पढ़ें- रावत का इस्तीफा पर्याप्त नहीं, कांग्रेस ने भाजपा पर लगाया ’भागने के मार्ग खोजने’ का आरोप

“रावत ने अपने नाम की घोषणा के बाद कहा की – “मैं पीएम, गृह मंत्री और पार्टी प्रमुख का शुक्रिया अदा करता हूं। जिन्होंने मुझ पर भरोसा किया। एक पार्टी कार्यकर्ता जो कि एक छोटे से गांव से आता है। मैंने कभी नहीं सोचा था कि मैं यहां तक ​​पहुंचूंगा। लोगों की अपेक्षाओं को पूरा करने और काम को आगे बढ़ाने के लिए सभी प्रयास करेंगे। वह आज शाम 4 बजे शपथ लेंगे।

यह भी पढ़ें- हरियाणा विधानसभा में अविश्वास प्रस्ताव, बीजेपी और कांग्रेस ने व्हिप जारी किया

केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक, अजय भट्ट, माला राज्य लक्ष्मी और नरेश बंसल सहित सांसदों के साथ बुधवार को 50 से अधिक भाजपा विधायक पार्टी के राज्य मुख्यालय देहरादून पहुंचे। केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने भी बैठक में भाग लिया।

2013 से 2015 तक भाजपा की उत्तराखंड इकाई के प्रमुख के रूप में गढ़वाल के सांसद तीरथ सिंह रावत ने कार्य किया। त्रिवेंद्र सिंह रावत ने राज्यपाल बेबी रानी मौर्य से मुलाकात करने के बाद अपना इस्तीफा दे दिया।

अपना इस्तीफा सौंपने के तुरंत बाद, रावत ने अपने आधिकारिक निवास पर एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए मीडिया को बताया कि पार्टी ने “सामूहिक रूप से निर्णय लिया है। कि किसी और को अब राज्य का नेतृत्व करना चाहिए।

बीजेपी ने 2017 में चुनाव लड़े, 70 सदस्यीय उत्तराखंड विधानसभा में 57 सीटें जीतीं। दूसरी ओर, कांग्रेस ने सिर्फ 11 सीटें जीतीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

RECENT UPDATED

%d bloggers like this: