फाल्गुन माह 2022: ग़ुस्से पर नहीं है नियंत्रण, तो फाल्गुन मास में करें ये उपाय

- Advertisement -

Upay: हिंदू धर्म में हर महीने का अपना अलग महत्व होता है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार प्रत्येक माह में कुछ विशेष कार्य करने की सलाह दी जाती है। वहीं हिंदी कैलेंडर के अनुसार फाल्गुन साल का आखिरी महीना होता है। यह बहुत ही पवित्र महीना है। इसके खत्म होने के बाद नया साल यानी चैत्र मास शुरू होता है। फाल्गुन के महीने में होली, महाशिवरात्रि जैसे कई बड़े और धार्मिक त्योहार मनाए जाते हैं। इस महीने का ज्योतिषीय महत्व भी है। वहीं जिन लोगों को बहुत गुस्सा आता है या जीवन में मानसिक अशांति रहती है तो उनसे छुटकारा पाने के लिए यह महीना सबसे उपयुक्त माना जाता है। माना जाता है कि फाल्गुन मास में चंद्रमा का जन्म हुआ था। इसलिए इस महीने में चंद्रमा की पूजा का विशेष महत्व है। साथ ही कुंडली में कमजोर चंद्रमा को मजबूत करने के लिए इस महीने में कुछ उपाय करने चाहिए। आइए जानते हैं इनके बारे में…

Upay-

चंद्रमा को मजबूत करने के लिए अपनाएं ये उपाय

धार्मिक मान्यता है कि फाल्गुन मास में सफेद वस्तु का दान कुंडली में कमजोर चंद्रमा को मजबूत करने के लिए शुभ माना जाता है। कहा जाता है कि इस महीने में सफेद फूल, दही, सफेद शंख, चीनी, चावल, सफेद चंदन, सफेद वस्त्र आदि का दान करने से शुभ फल मिलते हैं।

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार पूर्णिमा के दिन ही चंद्रमा को देखना चाहिए। साथ ही चंद्रमा की रोशनी में बैठकर चंद्र देव के मंत्र का जाप करें। इससे आपको निश्चित रूप से लाभ मिलेगा।

साथ ही कहा जाता है कि फाल्गुन मास में शिवलिंग पर जव चढ़ाना शुभ माना जाता है। साथ ही हो सके तो फाल्गुन मास के प्रत्येक सोमवार को भगवान शिव की पूजा करें और व्रत रखें।

मान्यता है कि फाल्गुन मास में ये सभी उपाय करने से मानसिक शांति मिलती है। साथ ही व्यक्ति अपने गुस्से पर काबू पाने में सक्षम होता है और उसकी इच्छा शक्ति मजबूत होती है।

यह भी पढ़ें – आमलकी एकादशी 2022: 13 मार्च को है आमलकी एकादशी, पूजा के दौरान पढ़ें यह कथा

यह भी पढ़ें – शीतला अष्टमी 2022: शीतला अष्टमी या बसौड़ा कब है? जानें पूजा का शुभ मुहूर्त और विधि

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Latest Update

Latest Update