Uttar Pradesh: मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक सोमवार से कानपुर सहित आसपास के शहरों महोबा, हमीरपुर, हरदोई, इटावा, औरैया, उन्नाव, कन्नौज, बांदा, चित्रकूट, फतेहपुर, फर्रुखाबाद, इटावा, औरैया, आदि जगहों पर मानसून दस्तक दे सकता है। ऐसा पहली बार 50 वर्षों में होगा। जब निर्धारित समय से 15 दिन पहले मानसून आ जाएगा।

चंद्रशेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (CSA) के मौसम विज्ञानी डॉक्टर एसएन पांडेय के मुताबिक मानसून भारत में इस बार काफी पहले पहुंच रहा है। दक्षिण पश्चिमी मानसून पूर्वी उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) सहित कानपुर में देर रात रविवार तक आने की संभावना है।

कानपुर में रविवार को सुबह से ही बादल छाए रहे। मौसम विभाग की मानें तो दक्षिणी राजस्थान और गुजरात के कच्छ क्षेत्र को छोड़कर मानसून के पूरे देश में छाने की उम्मीद है। जून से सितंबर तक इस साल पूरे देश में दक्षिण-पश्चिम मानसून से सामान्य बारिश होने की संभावना है।

देश के कई राज्यों में मानसून बंगाल की खाड़ी में उत्तर-पश्चिम की तरफ कम दबाव का क्षेत्र बनने से समय से पहले पहुंच गया है। गंगा से लगे पश्चिम बंगाल के इलाकों और ओडिशा में भारी बारिश की संभावना है।

इसी तरह अगले 24 घंटे में झारखंड, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, उत्तर प्रदेश सहित कई राज्यों में बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।

लगातार लुढ़क रहा अधिकतम तापमान

मौसम में परिवर्तन के कारण पिछले कई दिनों से अधिकतम तापमान में गिरावट दर्ज की जा रही है। दिन का पारा 2 डिग्री सेल्सियस लुढ़ककर 32.4 डिग्री पर आ गया।

यह सात डिग्री सामान्य तापमान से कम है। पिछले तीन दिन से न्यूनतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस पर बना हुआ है। इसकी वजह बादल रात में छाने वाले हैं।

यह भी पढ़ें- शर्मनाक: मानसिक विक्षिप्त को पुलिस ने पीट-पीटकर मार डाला, आठ निलंबित

यह भी पढ़ें- चंडीगढ़: मिल्खा सिंह की पत्नी निर्मल मिल्खा सिंह का कोरोना से निधन, अंतिम संस्कार में नहीं जा सके मिल्खा सिंह

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *