Global Statistics

All countries
199,159,226
Confirmed
Updated on 02/08/2021 5:37 PM
All countries
178,018,382
Recovered
Updated on 02/08/2021 5:37 PM
All countries
4,243,668
Deaths
Updated on 02/08/2021 5:37 PM

Global Statistics

All countries
199,159,226
Confirmed
Updated on 02/08/2021 5:37 PM
All countries
178,018,382
Recovered
Updated on 02/08/2021 5:37 PM
All countries
4,243,668
Deaths
Updated on 02/08/2021 5:37 PM

उत्तर प्रदेश: लखीमपुर खीरी रात ढलते ही अंधेरे की चादर में तब्दील

Uttar Pradesh: उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में भारी बारिश के कारण शारदा नदी के उफान पर आ जाने के बाद बाढ़ का पानी गांवों में पहुंच गया है। घरों के क्षतिग्रस्त होने से, ग्रामीण नदी तटबंधों के पास अस्थायी झोपड़ियों में दुबक गए।

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के लखीमपुर खीरी के कई बाढ़ प्रभावित गांव अंधेरे की चपेट में हैं। बाढ़ प्रभावित इलाकों में जैसे ही रात ढलती है। गांव अंधेरे की चादर में तब्दील हो जाते हैं।

कई बाढ़ प्रभावित ग्रामीण नदी तटबंधों पर अस्थायी झोपड़ियों में रह रहे हैं। गांवों में बाढ़ की तबाही से कई झोपड़ियां क्षतिग्रस्त हो गई हैं। गांव में अधिकांश घर, खेत और आजीविका के स्रोत बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गए।

यह सब उत्तराखंड में भारी बारिश के बाद हुआ जिसके चलते शारदा नदी में पानी भर गया।

प्रशासन द्वारा राशन उपलब्ध नहीं कराए जाने के कारण ग्रामीणों को आवश्यक, सब्जियां आदि खरीदने के लिए 4-10 फीट पानी के नीचे लंबी दूरी तय करनी पड़ती है।

दिनेश कुमार की मां की तबीयत खराब है, लेकिन बाढ़ की वजह से वे डॉक्टर के पास नहीं जा पा रही हैं. उनके बेटे दिनेश ने उनके लिए दवा लाने के लिए दूर-दूर तक यात्रा की।

वहीं, मेहंदी गांव में 32 वर्षीय जाबिर खान बीती शाम से लापता है. उनका शव बाढ़ के पानी में तैरता हुआ देखा गया, जिससे उनकी छह साल की दो बेटियों और पत्नी की आंखों से आंसू छलक पड़े।

डीएम लखीमपुर खीरी, डॉ अरविंद चौरसिया ने कहा, राजस्व विभाग प्रभावित लोगों को राशन उपलब्ध करा रहा है और अगर कुछ को अभी भी नहीं मिला है, तो उन्हें भी मिलेगा. उन्होंने कहा, “अब तक एनडीआरएफ या एसडीआरएफ टीम की कोई जरूरत नहीं है।

Leave a Reply

ताजा खबर

Related Articles

%d bloggers like this: