Vastu Shastra for Show Stand: घर में उल्टे-सीधे पड़े जूते-चप्पलों का भी होता है

Vastu Shastra: वास्तु शास्त्र के अनुसार जूतों का व्यक्ति के जीवन पर अच्छा या बुरा प्रभाव पड़ सकता है। वास्तु के अनुसार व्यक्ति जिस रंग के जूते-चप्पल पहनता है उसका जीवन पर सकारात्मक या नकारात्मक प्रभाव अवश्य पड़ता है।

Vastu Shastra: वास्तु शास्त्र का हर व्यक्ति के जीवन में बहुत महत्व है। ऐसा माना जाता है कि वास्तु की मदद से हर कठिनाई से दूर किया जा सकता है। वास्तु शास्त्र के अनुसार न केवल घर में रखी हर चीज का व्यक्ति की प्रगति पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता, बल्कि उनके द्वारा अपनाए गए कपड़ों का भी अच्छा या बुरा प्रभाव पड़ता है। वास्तु के अनुसार, जूते -चप्पल व्यक्ति का भाग्य जिस तरह बना सकते हैं। ठीक उसी तरह व्यक्ति के जीवन पर भी इसका बुरा प्रभाव पड़ सकता है। कई बार फैशन की वजह से हम इस तरह के फुटवियर पहन लेते हैं, जिससे आने वाले समय में कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। वास्तु के अनुसार जूते के कुछ रंग ऐसे होते हैं जिन्हें पहनने से पहले व्यक्ति को चार बार सोचना चाहिए। क्योंकि यह बात भविष्य में प्रगति में बाधा उत्पन्न करती है।

यह भी पढ़ें – वास्तु शास्त्र: घर में कभी भी ऐसे न रखें जूते-चप्पल, पड़ता है हानिकारक प्रभाव

यह भी पढ़ें – वास्तु शास्त्र: पति-पत्नी रखें इन छोटी-छोटी बातों का ख्याल, कई गुना बढ़ जाएगा प्यार

वास्तु शास्त्र के अनुसार इस रंग के जूते-चप्पल न पहनें

वास्तु शास्त्र के अनुसार पीले रंग के जूते नहीं पहनने चाहिए। क्योंकि पीला रंग बृहस्पति से संबंधित है। ऐसे में पीले रंग की चप्पल पहनकर गुरु बृहस्पति का अनादर करते हैं। इसके साथ ही कुंडली में बृहस्पति ग्रह कमजोर हो जाता है। वास्तु में इस ग्रह को सबसे शुभ माना जाता है। ऐसे में यदि यह ग्रह कुंडली में कमजोर हो जाए तो पैसों की कमी का सामना करना पड़ेगा। किसी भी काम में बड़ों का सहयोग रुक जाता है। इसके साथ ही कई शारीरिक और मानसिक समस्याओं का सामना करना पड़ता है। घर की सुख-शांति समाप्त हो जाती है। इसलिए इस रंग के जूते और चप्पल पहनने से बचना चाहिए।

किस रंग के जूते पहनना शुभ रहेगा

वास्तु शास्त्र के अनुसार पीले रंग को छोड़कर कोई भी काला, नीला, सफेद, भूरा, हरा, लाल जैसे रंग पहन सकता है। इससे व्यक्ति को किसी भी प्रकार के दोष का सामना नहीं करना पड़ेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *