Vastu Shastra: इन वास्तु टिप्स को डेली रूटीन में जरूर करें शामिल, घर और परिवार

Vastu Shastra: वास्तु शास्त्र के अनुसार सकारात्मक ऊर्जा से घर में खुशियां बनी रहती हैं। साथ ही जब परिवार के सदस्य सुख से रहते हैं तो घर में लक्ष्मी का वास होता है। यही वजह है कि वास्तु के नियमों का घर में सख्ती से पालन किया जाता है।

Vastu Shastra: वास्तु शास्त्र के अनुसार सकारात्मक ऊर्जा से घर में खुशियां बनी रहती हैं। साथ ही जब परिवार के सदस्य सुख से रहते हैं तो घर में लक्ष्मी का वास होता है। यही वजह है कि वास्तु के नियमों का घर में सख्ती से पालन किया जाता है।
वास्तु शास्त्र के कुछ खास टिप्स घर की समृद्धि को बढ़ाते हैं। ऐसे में जानिए परिवार में सुख-समृद्धि के लिए वास्तु टिप्स।

परिवार में सुख और समृद्धि के लिए वास्तु टिप्स

वास्तु शास्त्र के अनुसार कांच की बोतल में नमक भरकर घर की उत्तर-पूर्व दिशा में रखने से घर में सुख-समृद्धि आती है। साथ ही धन की समस्या भी दूर होती है। इसके अलावा धन आगमन का योग भी बनता है।

घर में तिजोरी या धन की अलमारी का मुख उत्तर दिशा की तरफ होना बहुत शुभ माना जाता है। ऐसे में तिजोरी या आलमारी का दरवाजा उत्तर दिशा की ओर रखें। वहीं तिजोरी के आसपास गंदगी या झाड़ू नहीं रखनी चाहिए।

वास्तु के मुताबिक सप्ताह में किसी दिन पानी में नमक मिलाकर अवश्य पोछा लगाना
चाहिए। ऐसा करने से घर में सकारात्मक ऊर्जा बनी रहती है। साथ ही वास्तु दोष दूर होते हैं। गुरुवार के दिन घर में नमक – पानी का पोछा न लगाएं।

वास्तु शास्त्र के अनुसार किचन या बाथरूम में नल से टपकता पानी अशुभ होता है। ऐसा होने पर आर्थिक नुकसान होता है। वहीं तुलसी का पौधा घर की पूर्व या उत्तर दिशा में लगाने से घर में सुख-शांति बनी रहती है। साथ ही घर में कोई विवाद और परेशानी नहीं होती है।

वास्तु के अनुसार सोते समय शीशा देखना या उसमें अपनी ही छाया होना अशुभ होता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि पति-पत्नी के रिश्ते बिगड़ने लगते हैं। अगर बेडरूम में पलंग के सामने शीशा लगा हो तो उसे सोने से पहले ढक कर रखना चाहिए।

यह भी पढ़ें – वास्तु शास्त्र: फिटकरी के उपाय बदल सकते हैं आपकी किस्मत, वास्तु दोषों से मिलेगा छुटकारा

यह भी पढ़ें – वास्तु टिप्स: लिविंग रूम में सकारात्मक ऊर्जा लाने के लिए अपनाएं ये वास्तु टिप्स

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *