Vijaya Ekadashi 2022: विजया एकादशी के दिन करें ये उपाय, मनचाहा काम मिलेगा और बनी रहेगी सुख-शांति

Vijaya Ekadashi 2022: पंचांग के अनुसार इस वर्ष 27 फरवरी 2022 रविवार को फाल्गुन मास के कृष्ण पक्ष की एकादशी है। इस एकादशी को विजया एकादशी कहते हैं। विजया एकादशी के दिन भगवान विष्णु की पूजा की जाती है। विजया एकादशी का व्रत रखने और भगवान विष्णु की पूजा करने से सभी कार्यों में सफलता मिलती है। साथ ही शत्रुओं पर विजय भी प्राप्त होती है। शास्त्रों में एकादशी के सभी व्रतों को भगवान विष्णु को समर्पित बताया गया है। विजया एकादशी का व्रत शत्रुओं पर विजय दिलाने वाला माना जाता है। मान्यताओं के अनुसार, भगवान श्री राम ने स्वयं रावण से युद्ध करने से पहले विजया एकादशी (Vijaya Ekadashi) का व्रत रखा था। जिसके बाद उन्होंने लंकापति रावण का वध किया था। अगर किसी कारणवश आप यह व्रत नहीं रख पा रहे हैं तो इस शुभ दिन पर आप कुछ विशेष उपाय कर सकते हैं। इन उपायों से आपकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण होंगी। आइए जानते हैं उन उपायों के बारे में…

भगवान विष्णु को चढ़ाएं ये चीजें

विजया एकादशी के दिन भगवान विष्णु को पीले फूल, अक्षत, धूप, दीप, सुगंध, रोली, चंदन, केला, फल, पंचामृत, तुलसी का पत्ता, पान, सुपारी, हल्दी आदि चढ़ाएं। साथ ही इस दौरान ओम भगवते वासुदेवाय नम: मंत्र का जाप करते रहें।

एकादशी के दिन करें ये उपाय

नौकरी के लिए

अगर आप लंबे समय से अच्छी नौकरी की तलाश में हैं तो एकादशी के दिन कलश पर आम पल्लव रख कर, उस पर जौ से भरा पात्र रखें और दीपक जलाएं। साथ ही 11 लाल फूल, 11 फल और मिठाई भी चढ़ाएं। इसके बाद भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी जी की पूजा करें। इसके बाद ‘ओम नारायणाय लक्ष्म्यै नमः’ मंत्र का जाप करें।

घर में सुख-समृद्धि के लिए करें ये उपाय

घर में सुख-समृद्धि के लिए विजया एकादशी के दिन पूजा करते समय तुलसी के पत्तों का प्रयोग करें। तुलसी के पत्ते चढ़ाते समय भगवान विष्णु के सामने अपने परिवार में सुख-समृद्धि की प्रार्थना करें। कहा जाता है कि इससे नारायण बहुत प्रसन्न होते हैं। क्योंकि तुलसी उनकी प्रिय है।

विशेष कामना के लिए करें ये उपाय

विशेष कामना के लिए इस दिन भगवान श्री राम और उनके परिवार की पूजा करें। साथ ही ग्यारह केले, लड्डू, लाल फूल, ग्यारह चंदन की अगरबत्ती और ग्यारह दीपक, ग्यारह खजूर और ग्यारह बादाम चढ़ाएं। इसके बाद ‘ओम सिया पतिये राम रामाय नमः’ मंत्र का जाप करें।

यह भी पढ़ें –  Ram Navami 2022: साल 2022 में कब है राम नवमी, जानिए तिथि, शुभ मुहूर्त, पूजा विधि, महत्व और बहुत कुछ

यह भी पढ़ें – Buddha Purnima 2022: 2022 में कब है बुद्ध पूर्णिमा, जाने कौन है गौतम बुद्ध, कैसे हुई बुद्धत्व की प्राप्ति

यह भी पढ़ें – Rang Panchami 2022: 2022 में कब है रंग पंचमी, तिथि, महत्व और पौराणिक कथा सहित बहुत कुछ

यह भी पढ़ें – Holi 2022: वर्ष 2022 में कब है होली ? जानिए होलिका दहन का शुभ मुहूर्त, तिथि और पौराणिक कथा सहित बहुत कुछ

यह भी पढ़ें – महाशिवरात्रि 2022: 2022 में कब है महाशिवरात्रि? जानें तिथि, शुभ मुहूर्त और पूजन विधि सहित बहुत कुछ

यह भी पढ़ें – 2022 में दीपावली कब है, जानिए तिथि, शुभ मुहूर्त, पूजा विधि, महत्व और पौराणिक कथा सहित बहुत कुछ

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Latest Update

Latest Update