विनायक चतुर्थी 2022: विनायक चतुर्थी पर न करें ये काम, नहीं तो नाराज हो जाएंगे गणेश जी

Vinayak Chaturthi 2022: हिंदू कैलेंडर के अनुसार हर महीने में दो चतुर्थी आती हैं। एक शुक्ल पक्ष में और एक कृष्ण पक्ष में। कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को संकष्टी चतुर्थी तथा शुक्ल पक्ष की चतुर्थी को विनायक चतुर्थी कहते हैं। इस वर्ष चैत्र मास की विनायक चतुर्थी मंगलवार, 05 अप्रैल को पड़ रही है। भगवान गणेश के भक्त इस दिन व्रत रखते हैं और विधि-विधान से उनकी पूजा करते हैं। चतुर्थी तिथि भगवान गणेश को समर्पित है। गणेश जी को सभी परेशानियों और बाधाओं को दूर करने वाला माना जाता है। भगवान गणेश रिद्धि-सिद्धि के दाता हैं और शुभता के प्रदाता भी हैं। हिंदू धर्म में गणेश जी को सभी संकटों का हरण करने वाला और विघ्नों का नाश करने वाला माना जाता है। चतुर्थी (Vinayak Chaturthi) तिथि पर भगवान गणेश की पूजा करना बहुत शुभ माना जाता है। विनायक चतुर्थी पर भगवान गणेश की पूजा करने से बुद्धि और ऐश्वर्य की प्राप्ति होती है, लेकिन गणेश की पूजा में कुछ बातों का ध्यान रखना बहुत जरूरी है। आइए जानते हैं विनायक चतुर्थी के व्रत और पूजा में क्या नहीं करना चाहिए।

गणेश जी की पूजा करते समय इन बातों का रखें ध्यान

मान्यता के अनुसार जब आप भगवान गणेश की पूजा में दीपक जलाते हैं तो उसका स्थान बार-बार न बदलें और न ही उसे भगवान गणेश के सिंहासन पर रखें। ऐसा करना अशुभ माना जाता है।

विनायक चतुर्थी पर गणेश जी की स्थापना करके उन्हें अकेला न छोड़ें, वहां पर कोई न कोई अवश्य होना चाहिए। इसके अलावा गणेश जी की पूजा और व्रत में मन, कर्म और वचन से शुद्ध रहें। साथ ही ब्रह्मचर्य के नियमों का पालन करें।

गणेश जी की पूजा में तुलसी का प्रयोग नहीं करना चाहिए। ऐसा माना जाता है कि ऐसा करने से आप भगवान गणेश के क्रोध का भागी बन सकते हैं। किंवदंती है कि गणेश ने तुलसी को श्राप दिया था और अपनी पूजा से वर्जित कर दिया था।

विनायक चतुर्थी व्रत के दौरान इस बात का ध्यान रखें कि आप फलों के भोजन में नमक का सेवन बिल्कुल भी न करें। साथ ही इस दिन काले कपड़े न पहनें, काला रंग नकारात्मकता का प्रतीक माना जाता है।

ध्यान रखने वाली सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि विनायक चतुर्थी की पूजा के समय गणेश जी की इस प्रकार स्थापना करें कि उनकी पीठ दिखाई न दे। ऐसा माना जाता है कि पीठ देखने से दरिद्रता आती है।

यह भी पढ़ें – Durga Chalisa: नवरात्रि में करें दुर्गा आरती और दुर्गा चालीसा का पाठ, माता रानी हर लेंगी सब संकट

यह भी पढ़ें – Chaitra Navratri 2022: अगर आप भी रखते हैं नवरात्रि व्रत तो रखें इन बातों का ध्यान, जानिए क्या हैं व्रत के नियम?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Latest Update

Latest Update