Global Statistics

All countries
625,696,939
Confirmed
Updated on October 7, 2022 3:38 pm
All countries
603,852,552
Recovered
Updated on October 7, 2022 3:38 pm
All countries
6,558,132
Deaths
Updated on October 7, 2022 3:38 pm

Global Statistics

All countries
625,696,939
Confirmed
Updated on October 7, 2022 3:38 pm
All countries
603,852,552
Recovered
Updated on October 7, 2022 3:38 pm
All countries
6,558,132
Deaths
Updated on October 7, 2022 3:38 pm

Warning: Trying to access array offset on value of type bool in /homepages/40/d912903600/htdocs/clickandbuilds/Bhagymat/wp-content/plugins/td-cloud-library/state/single/tdb_state_single.php on line 285

Warning: Trying to access array offset on value of type bool in /homepages/40/d912903600/htdocs/clickandbuilds/Bhagymat/wp-content/plugins/td-cloud-library/state/single/tdb_state_single.php on line 285

Warning: Trying to access array offset on value of type bool in /homepages/40/d912903600/htdocs/clickandbuilds/Bhagymat/wp-content/plugins/td-cloud-library/state/single/tdb_state_single.php on line 285

Warning: Trying to access array offset on value of type bool in /homepages/40/d912903600/htdocs/clickandbuilds/Bhagymat/wp-content/plugins/td-cloud-library/state/single/tdb_state_single.php on line 285

Warning: Trying to access array offset on value of type bool in /homepages/40/d912903600/htdocs/clickandbuilds/Bhagymat/wp-content/plugins/td-cloud-library/state/single/tdb_state_single.php on line 285

विटामिन डी की कमी से बढ़ सकता है दिल की बीमारियों का खतरा, शहरी लोगों को सबसे अधिक खतरा

- Advertisement -

Vitamin D Ki Kami: पिछले एक दशक में, दुनिया भर में हृदय रोगियों की संख्या तेजी से बढ़ती देखि गयी है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के अधिकारियों के अनुसार, हृदय रोग विश्व स्तर पर मृत्यु के प्रमुख कारणों में से एक है। गंभीर बात यह है कि पहले इस बीमारी को उम्र बढ़ने की समस्या के रूप में देखा जाता था। हालांकि अब इस बीमारी का निदान कम उम्र के लोगों में भी होने लगा है। मुख्य रूप से जीवनशैली और खान-पान में गड़बड़ी को हृदय रोगों का मुख्य कारण माना जाता था। हाल ही में हुए एक अध्ययन में वैज्ञानिकों ने दिखाया है कि एक विशेष विटामिन की कमी से हृदय रोगों का खतरा भी बढ़ सकता है।

Vitamin D Ki Kami: यूरोपियन हार्ट जर्नल में प्रकाशित इस अध्ययन में वैज्ञानिकों ने कहा कि जिन लोगों में विटामिन डी की कमी होती है. उनमें अन्य लोगों की तुलना में सभी हृदय रोगों का खतरा अधिक हो सकता है। शोधकर्ताओं का कहना है कि सभी लोगों को इस विटामिन की दैनिक आवश्यकताओं को आहार के माध्यम से पूरा करने पर ध्यान देना चाहिए। विटामिन-डी शरीर के लिए बहुत जरूरी माना जाता है।

हृदय रोग और विटामिन डी की कमी (Vitamin D Ki Kami)

अध्ययन में पाया गया कि विटामिन डी की कमी वाले लोगों में उच्च रक्तचाप का खतरा अधिक होता है। जिसे हृदय रोग का एक प्रमुख कारक माना जाता है। अन्य लोगों की तुलना में इस विटामिन की कमी वाले लोगों में दिल का दौरा, हार्ट फेलियर और कई अन्य हृदय रोगों का खतरा दोगुना हो सकता है। यह भी ध्यान देने वाली बात है कि विश्व स्तर पर हृदय रोग (CVD) विश्व भर में मौत का मुख्य कारण है। जिससे सालाना अनुमानित 17.9 मिलियन लोग मारे जाते हैं।

अध्ययन में क्या मिला?

दक्षिण ऑस्ट्रेलिया विश्वविद्यालय में प्रोफेसर एलिना हाइपोनन कहतीं हैं। हालांकि, लोगों में गंभीर विटामिन डी की कमी के मामले काफी दुर्लभ हैं। हालांकि, सामान्य से अधिक मात्रा में इसकी कमी हृदय पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकती है। शहरी आबादी में विटामिन डी की कमी के मामले अधिक देखे जा रहे हैं। इसका मुख्य कारण यह हो सकता है कि उन्हें पर्याप्त धूप नहीं मिल पाती है। इससे लोगों को बेहद सावधान रहने की जरूरत है।

वैश्विक खतरा

लगभग 267,980 लोगों के इस अध्ययन में वैज्ञानिकों को विटामिन डी की कमी और सीवीडी के बीच संबंध के बारे में सबूत मिले। शोधकर्ताओं ने कहा कि शरीर में विटामिन डी की कमी की मात्रा इसके अनुपात में विभिन्न प्रकार के हृदय रोगों के जोखिम को बढ़ा सकती है। यदि आहार और धूप के माध्यम से इस कमी को पूरा करने का प्रयास किया जाए तो वैश्विक स्तर पर हृदय रोगों के बढ़ने के जोखिम को कम किया जा सकता है।

विटामिन-डी कैसे प्राप्त करें?

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार आहार में कुछ खास बदलाव करके विटामिन-डी की कमी को ठीक किया जा सकता है। इसके अलावा सुबह के समय धूप के संपर्क में आने से सभी लोगों को फायदा हो सकता है। अध्ययनों से पता चलता है कि आहार में इन चीजों को शामिल करने से विटामिन-डी आसानी से प्राप्त किया जा सकता है।

  • वसायुक्त मछली, जैसे टूना, मैकेरल और सैल्मन।
  • विटामिन डी से भरपूर खाद्य पदार्थ जैसे कुछ डेयरी उत्पाद, संतरा, सोया दूध और साबुत अनाज।
  • चीज और अंडे
  • मूंगफली

यह भी पढ़ें – मानसिक स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है इन चीजों का सेवन, दूर रहेगी डिप्रेशन-चिंता

यह भी पढ़ें – गुड़ – चना: सर्दियों में इसके सेवन से होंगे चमत्कारी फायदे, पुरुषों के लिए है रामबाण

Leave a Reply

spot_imgspot_img
spot_img

Latest Articles